पपीता (Papaya) अपने गुणों की वजह से बेहद फेमस है। सभी लोग इसको खाना पसंद करते हैं, लेकिन सेहत से जुड़ी कुछ समस्याओं में पपीते (Papaya) का सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर आपको पथरी की समस्या है तो पपीते का सेवन बहुत सीमित मात्रा में करें। विटामिन सी से भरपूर पपीते का अधिक मात्रा में सेवन स्टोन की प्रॉब्लम को बढ़ा सकता है। पपीते में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट किडनी के मरीजों को भी नुकसान पहुंचाते हैं।

पीलिया और अस्थमा के मरीजों के लिए पपीते का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इसमें मौजूद पपाइन और बीटा कैरोटीन इन दोनों बीमारियों में नुकसान पहुंचाते हैं।

ज्यादा मात्रा में पपीते का सेवन डाइजेशन को खराब करता है। इसमें फाइबर की मात्रा होती है और जब आप अधिक मात्रा में पपीते का सेवन करते हैं तो इससे पेट में गैस, दर्द, जलन की समस्या पैदा हो सकती है। पपीते का सेवन कब्ज को दूर करता है, लेकिन अधिक मात्रा में इसे खाने से ​दस्त की समस्या हो सकती है।

हृदय रोगों के ​मरीजों के लिए भी पपीते का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। इससे हार्ट बीट स्लो हो सकती है। बीपी के मरीज हैं तो भी पपीते का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

अगर आपको एलर्जी की समस्या है तो इसे खाना आपको नुकसान पहुंचा सकता है। इससे स्किन पर रैशेज और दूसरी समस्याएं हो सकती हैं।

पपीते के बीज, जड़ और पत्तियों का अर्क भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकता है। पपीते में कुछ ऐसे एंजाइम होते हैं, जो गर्भाशय के संकुचन का कारण बन सकते हैं।