गत एक सप्ताह से डॉलर की तुलना में पाकिस्तानी मुद्रा की गिरावट लगातार जारी है और गुरुवार को यह 200 रुपये प्रति डॉलर के स्तर से भी नीचे चली गई।

ये भी पढ़ेंः जमानत मिलने के बाद फिर से रिमांड पर भेजे जा सकते हैं आजम खान, एमपी एमएलए कोर्ट में चल रही सुनवाई


अंतरबैंकिंग मुद्रा कारोबार में सुबह 11 बजे अमेरिकी डॉलर की तुलना में पाकिस्तानी मुद्रा 1.81 रुपये या 0.91 प्रतिशत फिसलकर 200.20 पाकिस्तानी रुपये प्रति डॉलर पर आ गई। बुधवार को यह 198.39 रुपये प्रति डॉलर तथा मंगलवार को 195.74 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई थी। पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की सत्ता छीनने के बाद से शहबाज शरीफ की सरकार जब से बनी है, तब से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में डॉलर 18.09 पाकिस्तानी रुपये महंगा हुआ है। 

ये भी पढ़ेंः कमलनाथ का बड़ा हमला, कहा- ओबीसी का हक कम कर खुशियां मना रही भाजपा, कांग्रेस देगी 27 फीसदी टिकट


बाजार विश्लेषकों के मुताबिक, देश में जारी आर्थिक और राजनीतिक संकट के कारण पाकिस्तानी मुद्रा पर दबाव बना हुआ है। बाजार की नजरें कतर में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और पाकिस्तान के बीच बातचीत पर भी टिकी हैं। दोनों के बीच पहले चरण की बातचीत बुधवार को समाप्त हुई है। पाकिस्तान ने आईएमएफ ने कहा कि वह बेलआउट पैकेज के लिये सख्त निर्णय लेने का तैयार है। पाकिस्तान ने आश्वासन दिया है कि वह ईंधन पर मिलने वाली सब्सिडी को खत्म कर देगा।