कई बार ऐसा होता है मीम्स के लिए पैसे भी मिल जाते हैं। ऐसा ही एक मामला पाकिस्तान से सामने आया है जहां दो लड़कों को अपनी दोस्ती खत्म करने के लिए 38 लाख रुपये मिल गए।

यहां सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हुई थी, जिसमें दो दोस्तों ने अपनी दोस्ती खत्म करने का ऐलान किया था। इनकी दोस्ती खत्म करने का तरीका जमकर वायरल हुआ था। हालांकि बताया जा रहा है कि यह पोस्ट कुछ साल पहले की गई थी लेकिन अब जाकर उस पोस्ट पर पैसे मिले हैं।

यह वायरल मीम गुजरांवाला के आसिफ रजा राणा नामक व्यक्ति ने फोटोशॉप से बनाकर फेसबुक पर 2015 में पोस्ट किया था। कैप्शन में राणा ने बताया था कि उन्होंने मुदासिर से दोस्ती खत्म कर ली है अब सलमान मेरा बेस्ट फ्रेंड है। दोस्‍ती में ब्रेकअप की ऐसी घोषणा सोशल मीडिया यूजर्स को इतनी मजेदार लगी कि यह वायरल हो गई थी।

'मुदासिर से दोस्ती खत्म' नामक शीर्षक से वायरल हुए इस पोस्ट का मीम 1.7 हजार डॉलर (करीब 38 लाख रुपपे) में नॉन फंजिबल टोकन (एनएफटी) के रूप में इस्तेमाल हुआ है। इसकी कीमत लंदन के एक स्टार्टअप 20 इथीरियम क्रिप्टो करेंसी में चुकाई गई है।

बता दें कि एनएफटी ऑक्‍शन में डिजिटल एसेट या संपत्ति की नीलामी की जाती है, जैसे कोई फोटो, पेंटिंग या गेम आदि के राइट्स उसके मालिक से खरीदना। रिपोर्ट के मुताबिक, फिलहाल इस पोस्ट से मिली कमाई का बड़ा हिस्सा आसिफ और उसके दोस्त के पास जाएगा। एनएफटी के रूप में बेचा जाने वाला यह पाकिस्तान का पहला मीम था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, आसिफ का कहना है कि मैं कभी नहीं जानता था कि ये पोस्ट इतना वायरल हो जाएगा और यह पूरी दुनिया में फैल जाएगा। हालंकि इस घटना के बाद आसिफ राणा और अहमद ने फिर से एक दूसरे तक दोस्ती का हाथ बढ़ा दिया है। आसिफ ने फेसबुक पर एक और तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा था कि मुदासिर के साथ दोस्ती फिर से हो गई। अब मुदासिर और सलमान दोनों ही मेरे सबसे अच्छे दोस्त हैं।