पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ अभी सऊदी अरब की यात्रा पर गए हुए हैं। इस दौरान उनकी बेइज्जती का एक ऐसा वाकया हुआ जिसका वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। दरअसल, जब शहबाज मदीना में मस्जिद-ए-नबावी में एंट्री कर रहे थे, तो लोगों ने चोर-चोर के नारे लगाना शुरू कर दिए। हालांकि, नारेबाजी करने वाले लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़ें : अरूणाचल प्रदेश ने सबको चौंकाया, पेट्रोल और डीजल पर सिर्फ इतना सा टैक्स लेती है सरकार

खबर है कि पाकिस्तान के पीएम शहबाज एक प्रतिनिधिमंडल के साथ 3 दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर सउदी अरब में हैं। उनके साथ सूचना मंत्री मरियम औरंगजेब और नेशनल असेंबली के सदस्य शाहज़ैन बुगती भी शामिल हैं। वहीं पाकिस्तानी अखबार के मुताबिक औरंगजेब ने इस तरह के विरोध के लिए नाम लिए बिना इमरान खान को जिम्मेदार ठहराया है।

इसको लेकर औरंगजेब ने कहा कि मैं उस व्यक्ति का नाम नहीं लूंगी, क्योंकि मैं इस पवित्र जमीन का इस्तेमाल राजनीति के लिए नहीं करना चाहती हूं। लेकिन उन्होंने पाकिस्तानी समाज को तबाह करके रख दिया है। खबर है कि शहबाज शरीफ सऊदी अरब से 3.2 अरब डॉलर के अतिरिक्त पैकेज की मांग करेंगे। साथ ही उनका प्रयास रहेगा कि पाकिस्तान के विदेशी मुद्रा भंडार में कमी को रोका जाए। सऊदी अरब ने इमरान खान के कार्यकाल के दौरान कर्ज में डूबे देश को 3 बिलियन अमेरिकी डॉलर की राशि की सहायता दी थी। एक अनुमान के मुताबिक पाकिस्तान को भुगतान संतुलन संकट और विदेशी मुद्रा भंडार में कमी को रोकने के लिए करीब 12 बिलियन अमेरिकी डॉलर की जरूरत है।

यह भी पढ़ें : सिक्किम में प्रतिकूल परिस्थितियों से बचने के लिए काम शुरू, नामची DC ने बुलाई मानसून की तैयारी की बैठक

शहबाज शरीफ ने 11 अप्रैल को पाकिस्तान के 23वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी। पाकिस्तान में विपक्षी दलों ने एकजुटता दिखाकर इमरान खान को अविश्वास प्रस्ताव में बाहर का रास्ता दिखा दिया था।