10 अगस्त को न्यू फ्रेंडस कॉलोनी थाना इलाके के सुखदेव विहार नाले में सूटकेस के अंदर मिले नवीन (35) नाम के शख्स के शव की गुत्थी सुलझ गई है। पुलिस ने दावा किया है कि इस मामले में मृतक की पत्नी और सास समेत 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इन पर नवीन की हत्या करने, शव को ठिकाने लगाने और सबूत मिटाने समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी आर. पी. मीणा ने बताया कि हत्या का राज मृतक नवीन के दाहिने हाथ पर नवीन नाम के बने टैटू से खुला। हालांकि, नवीन की हत्या 7 अगस्त की रात को कर दी गई थी। इस कारण शव सड़ने लगा था, लेकिन शव की पहचान होने में टैटू का अहम योगदान रहा। हत्या में इस्तेमाल चाकू, शव ठिकाने लगाने के लिए इस्तेमाल किया गया ऑटो, मृतक का मोबाइल, आरोपियों के 7 मोबाइल और इनके खून से सने कपड़े बरामद कर लिए गए हैं।

डीसीपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में नवीन की पत्नी मुस्कान (22), ट्रीजा उर्फ मेनू (48), जमालुद्दीन उर्फ जमाल (19), कोसलेंद्र उर्फ अमन (18), विशाल उर्फ कल्लू (22), विवेक उर्फ बगदी (21) और राजकुमार उर्फ राजपाल उर्फ हेतल हैं। खानपुर में रहने वाली मुस्कान मृतक नवीन की पत्नी है। यह एक फूड डिलीवरी कंपनी में काम करती थी। ट्रीजा मुस्कान की मां और हाउस नर्स का काम करती है। खानपुर इलाके में ही रहने वाला जमाल मुस्कान का दोस्त है। कोसलेंद्र रायबरेली यूपी का रहने वाला है। विशाल और विवेक डेंटल क्लिनिक में हेल्पर का काम करते हैं और राजकुमार कूरियर डिलीवरी बॉय का काम करता है। इन्हें एसएचओ सुमन कुमार और एसीपी अवनीश की टीम ने पकड़ा है।

नेब सराय इलाके में रहने वाले नवीन की 7 अगस्त की रात को आरोपी पत्नी ने अपने दोस्त जमाल और अन्य के साथ मिलकर हत्या कर दी थी। उस वक्त नवीन मुस्कान से मिलने इसके घर आया था। जहां जमाल मुस्कान के घर पर मिला था। इससे नवीन गुस्से में आ गया था। आरोप है कि इसके बाद मुस्कान, जमाल और बाहर खड़े दो दोस्तों ने नवीन के हाथ-पैर पकड़कर चाकू गोदकर उसकी हत्या कर दी थी। फिर शव को टंकी में धोकर सूटकेस में पैक किया और अगले दिन न्यू फ्रेंडस कॉलोनी इलाके के नाले में फेंक दिया था।

पुलिस को 10 अगस्त को सूटकेस से अज्ञात सड़ा-गला शव मिला था। इस दौरान नवीन की पत्नी कमरा खाली करके अपने मायके भाग गई थी। शुरुआत में मुस्कान ने पुलिस को अपने पति के टैटू के बारे में भी नहीं बताया था, लेकिन पुलिस ने जब सख्ती से पूछा तो सारा सच सामने आ गया। इसके बाद इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। करीब चार साल पहले दोनों की शादी हुई थी। करीब 7 महीने से मुस्कान अपने पति से अलग रह रही थी। मोतिहारी बिहार के रहने वाले जमाल को चलती ट्रेन में मुरादाबाद से पकड़ा गया।