देश में कोरोना आग की तरह फैल गया है। वैक्सीन की कमी के साथ साथ ऑक्सीजन की भी कमी देश में बढ़ गई है। ऑक्सीजन सकंट ने देश में हाहाकार मचा दिया है। वैसे ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं। इसी ऑक्सीजन संकट में बिहार की राजधानी में कोरोना की भयावह हालात देखने को मिले हैं। राजधानी पटना के अस्पदतालों में भी ऑक्सीमजन का संकट गहरा गया है।

ऑक्सी जन की कमी को लेकर 16 अस्पपतालों ने अलर्ट जारी किया है। अस्प ताल में ऑक्सी जन खत्म हो गई है जिससे मरीजों में हाहाकार मच गया है। ऑक्सींजन की आपूर्ति तत्काअल नहीं की गई तो गंभीर रूप से बीमार मरीजों की जान जा सकती है। IGIMS के अधीक्षक ने फौरन 250 लीटर ऑक्सीबजन की मांग की है।

अस्पईताल प्रबंधकों का दावा है कि ऑक्सीसजन मुहैया कराने वाली एजेंसी ने आपूर्ति नहीं की है। साथ ही एजेंसी के संचालक का मोबाइल भी बंद आ रहा है। ऑक्सी जन की कमी से जूझ रहे राज्य को मुक्त करने के लिए राज्यइ सरकार संकट को हल करने में जुटी हुई है, लेकिन हालात सुधर नहीं रहे हैं। इस दौरान एक मरीज के परिजन ने कहा, 'हमारे मरीज की जान बचा लीजिए. डॉक्टर बोल रहे हैं कि आक्सीजन केवल कुछ घंटों के लिए ही बची है '।