जब से AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी पर अटैक हुआ है तब से सोशल मीडिया पर Attack On Owaisi ट्रेंड कर रहा है। हालंकि, अब AIMIM के चीफ पर हमले के दोनों आरोपी सचिन पंडित और शुभम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ की जा रही है। प्रथम दृष्टया यह सामने आया है कि सचिन पंडित ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना का रहने वाला है। सचिन लॉ का स्टूडेंट रहा है। इस आरोपी ने बीजेपी की सदयस्ता भी ग्रहण की हुई थी।

ज​बकि दूसरा आरोपी शुभम सहारनपुर का रहने वाला है और खेती करता है। पुलिस को अब तक जांच में शुभम का कोई क्रिमिनल बैकग्राउंड नहीं मिला है। पूछताछ में शुभम और सचिन ने बताया है कि ये दोनों ओवैसी और उनके छोटे भाई के बयानों से बेहद नाराज थे।

जब भी वो फेसबुक, ट्विटर, सोशल मीडिया पर ये ओवैसी भाइयों के भाषण सुनते थे और उनसे बेहद नफरत करते थे। दोनों के पास से कंट्री मेड मुंगेर टाइप पिस्टल बरामद हुई है जो इन्होंने हाल ही में किसी से खरीदा था। एक दो लोगों के नाम सामने आए हैं जिनसे इन्होंने हथियार खरीदे थे। उन्हें भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

फेसबुक पर सचिन हिन्दू नाम से सचिन पंडित की प्रोफाइल है जिसमें उसने खुद को हिन्दू संगठन का सदस्य बताया है। पुलिस की जांच में साफ हुआ है कि आखिर सचिन किस हिंदू संगठन से जुड़ा हुआ है।

उधर, ओवैसी पर हुए इस हमले के विरोध में पार्टी के सदस्य देशभर में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान डीएम या आयुक्त को ज्ञापन देकर असदुद्दीन ओवैसी पर हमलों की जांच की मांग की जाएगी। औरंगाबाद से AIMIM सांसद इम्तियाज जलील ने उत्तर प्रदेश में होने वाली ओवैसी की जनसभाओं के लिए सख्त सुरक्षा की मांग की है।