त्रिपुरा में सोमवार को बड़हरघाट विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए हुए मतदान में 79 फीसदी से ज्यादा मतदान दर्ज किया गया। अधिकारियों ने कहा कि मतगणना शुक्रवार को होगी।


पश्चिम त्रिपुरा जिले के अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट तपन कुमार दास ने आईएएनएस से कहा, 'शाम पांच बजे तक 79 फीसदी से ज्यादा मतदाताओं ने मतदान किया। अंतिम मतदान प्रतिशत के बढ़ने की संभावना है, क्योंकि तय समय शाम पांच बजे के बाद भी सैकड़ों लोग कतारों में खड़े थे। निर्वाचन क्षेत्र में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।'


उन्होंने कहा, 'निर्वाचन अधिकारियों ने उम्मीदवारों व चुनाव में भाग ले रहीं पार्टियों से प्राप्त कुछ शिकायतों को तत्काल निपटा दिया।'


दास ने कहा कि सुरक्षाकर्मियों ने पश्चिम त्रिपुरा के बड़हरघाट विधानसभा क्षेत्र में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने वाले अनधिकृत रूप से जमा सैकड़ों लोगों को तितर-बितर कर दिया।


चतुष्कोणीय मुकाबले में उपचुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा से मिमी मजूमदार, विपक्षी मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की अगुवाई वाले वाम मोर्चा से बुल्टी बिश्वास, कांग्रेस के उम्मीदवार रतन चंद्र दास व एसयूसीआई (सी) से मृदुल कांति सरकार मैदान में हैं।

बड़हरघाट सीट पर उपचुनाव अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है। इस सीट पर उपचुनाव की जरूरत भाजपा के मौजूदा विधायक दिलीप सरकार के निधन के कारण हुई है।

पांच बार के कांग्रेस विधायक सरकार 2017 में भाजपा में शामिल हो गए थे। उनका निधन लंबी बीमारी के बाद एक अप्रैल को हुआ था। मतों की गिनती 27 सितंबर को होगी।