राजीव गांधी ओरांग राष्ट्रीय उद्यान सह-ओरांग टाइगर्स रिजर्व में बाघों की गणना गत 10 मार्च को समाप्त हो गई। वन विभाग द्वारा गत 30 जनवरी से अपने स्तर पर बाघों की गणना का कार्य शुरू किया गया था। 

राजीव गांधी ओरांग राष्ट्रीय उद्यान को हाल ही में वर्ष 2016 में देश का 49वां ओरांग टाइगर्स रिजर्व के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। ओरांग टाइग्रस रिजर्व द्वारा प्रकाशित प्राथमिकी रिपोर्ट के अनुसार बाघों की संख्या अनुमानतः 28(26-34) है।

इसी रिपोर्ट के अनुसार उद्यान के कुल 78.8 वर्ग किलोमीटर में 34 कैमरे ट्रेप लोकेशन के सहारे 30 जनवरी से 8 मार्च तक कुल 39 दिनों तक बाघों की गणना का कार्य किया गया। यह कार्य टीम लीडर डीएफओ शनिदेव चौधरी के नेतृत्व में रिसर्च टीम एनटीसीए के बायोलॉजिस्ट कमल आजाद एव वोलंटियर स्वप्ना डी. राय द्वारा फिल्ड स्टाफ रेंजर चक्रपाणि एवं अन्य वन सुरक्षा अधिकारियों द्वारा संपन्न किया गया। 

कैमरा ट्रेपिंग मे बाघों की कुल 448 तस्वीरें पाई गई हैं। रिसर्च टीम की रिपोर्ट के अनुसार इन 28 बाघों में 4 नर, 17 मादा की पहचान हो चुकी है, जबकि अन्य की पहचान होना अभी बाकी है।