ग्वालियर: ज्योतिरादित्य सिंधिया के कट्टर के समर्थक माने जाने वाले ओपीएस भदौरिया ने कमलनाथ पर आरोप लगाया है कि कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में सिंधिया को हराने के लिए कमलनाथ ने साजिश रची थी। इतना ही नहीं उन्होंने नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह पर भी जमकर हमला किया। केंद्र सरकार में मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस छोड़े दो साल हो गए हैं।

यह भी पढ़े : इस ट्रेन में आप बिना किराया दिए कर सकते हैं सफर, लकड़ी के बने हुए है कोच

ओपीएस भदौरिया ने कहा, 'मैं ये कहना चाहता हूं कि अभी कांग्रेस सिंधिया जी से डरी हुई थी, अब वो भयभीत औऱ घबराहट में है। अभी मैं एक रहस्योउद्घाटन ये करना चाहता हूं कि सिंधिया जी को हराने का षडयंत्र मुख्यमंत्री भवन में हुआ था और कमलनाथ जी के नेतृत्व में हुआ था। क्योंकि कमलनाथ जी के लिए सिंधिया जी एक बड़ी चुनौती थे और वो नहीं चाहते थे कि सिंधिया जी जैसा लोकप्रिय व्यक्ति चुनाव जीते। मुख्यमंत्री भवन से अन्य प्रदेश के नेताओं को पैसा देकर बुलाया गया और सिंधिया जी के खिलाफ षड़यंत्र रचा गया।

यह भी पढ़े : Shani Transit 2022 : शनि परिवर्तन सिंह राशि वालों के लिए लाएगा खुशखबरी, कन्या वालों के लिए बन रही है ऐसी स्थिति


मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष गोविंद जी को निशाने पर लेते हुए भदौरिया ने कहा, 'अगर गोविंद सिंह जी को हार जीत की चिंता है तो वह राहुल बाबा की चिंता करें जो खुद भी चुनाव भी हारते हैं और उनके नेतृत्व में पार्टी क्षेत्रीय दल से भी छोटी हो गई है। सिंधिया जी लोकप्रिय हैं, लोकप्रिय थे और लोकप्रिय रहेंगे। 

सिंधिया जी पहचान इसलिए नहीं है कि वो सिंधिया परिवार से हैं, वो तो उन्हें विरासत में मिला ही है, पर उन्होने जो विकास किया है वो उनकी लोकप्रियता का मूल कारण है। कांग्रेस को, खासतौर पर कमलनाथ जी को इस पूरे चंबल क्षेत्र से माफी मांगनी चाहिए जिनकी वजह से इस इलाके का विकास कार्य एक साल में अवरूद्ध हो गया था, कई हजार करोड़ रुपये का काम रूक गया था।

यह भी पढ़े : Chandra Grahan 2022: पूर्णिमा के दिन 12 दिन बाद लगेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, जानिए सूतक काल का समय


इस दौरान ओपीएस भदौरिया ने लाउडस्पीकर का भी मुद्दा उठाया और कहा कि योगी जी ने उत्तर प्रदेश में लाउडस्पीकर उतार दिए हैं, मध्य प्रदेश में भी ये होना चाहिए। उन्होने कहा कि कौन सा अल्लाह लाउडस्पीकर की आवाज सुनकर खुश होता है। ओपीएस भदौरिया ने इस दौरान भगवान राम को लेकर भी कमलनाथ पर निशाना साधा।