कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने विपक्ष के 19 दलों के नेताओं को संबोधित करते हुए आज कहा कि देश की जनता मोदी शासन से मुक्ति चाहती है इसलिए विपक्षी दलों को एकजुट होकर 2024 के लोकसभा चुनाव पर फोकस करना है। श्रीमती गांधी ने विपक्ष के प्रमुख नेताओं और मुख्यमंत्रियों को वर्चुअल बैठक के जरिए संबोधित करते हुए कहा कि विपक्षी दलों को 2024 के लोकसभा चुनाव की योजना पर व्यवस्थित रूप से और एकमात्र एजेंडे के तौर पर काम करना है। 

उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों की अपनी कुछ बाध्यताएँ हो सकती हैं लेकिन चुनौती लोकतांत्रिक मूल्यों की स्थापना की है और इस चुनौती से निपटने के लिए सब को एकजुट होकर के काम करना है तथा मिलकर मोदी सरकार से देश की जनता को मुक्ति दिलाना है। श्रीमती गांधी ने कहा कि विपक्षी दलों को एकजुटता से बहुत बड़ा राजनीतिक युद्ध लडऩा है। 

संसद सत्र के दौरान जिस तरह से सभी ने एक होकर एकता का परिचय दिया है उसी एकजुटता से संसद के बाहर भी इस सरकार की नीतियों के खिलाफ लडऩा है। उन्होंने कहा कि विपक्ष की एकता के कारण ही संसद के मानसून सत्र में संविधान संशोधन विधेयक पारित हो सका है।