उत्तर प्रदेश (UP) के रायबरेली जिले (Raebareli District) की एक महिला से कथित तौर पर एक व्यक्ति ने 32 लाख रुपये से ज्यादा की ठगी की है। महिला की उक्त व्यक्ति से दोस्ती इंस्टाग्राम (Instagram) पर हुई थी। कथित 'दोस्त' ने दावा किया कि वह यूके का रहने वाला है। महिला को बताया गया कि ब्रिटेन से उसके लिए 45 लाख रुपये का 'उपहार' और कुछ 'विदेशी मुद्रा' दिल्ली पहुंचा है और उसे लेने के लिए एक शुल्क देना होगा। एक अधिकारी ने कहा, 'उसे ऑनलाइन और कई किस्तों में भुगतान करने के लिए कहा गया। आखिरकार, उसने लगभग 32 लाख रुपये स्थानांतरित कर दिए, जिसके बाद दूसरी तरफ से कोई बात नहीं हुई।'

रायबरेली के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शोक कुमार ने कहा कि पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया और साइबर सेल मामले की जांच कर रही है। एसपी ने कहा, 'अपराधियों का पता लगाने और पीडि़त से ऑनलाइन ठगे गए पैसे को वापस लाने के प्रयास जारी हैं।' महिला सितंबर में इंस्टाग्राम पर उस व्यक्ति के संपर्क में आई, जहां उसने खुद का नाम हैरी और खुद को यूके कानिवासी बताया और सोशल मीडिया पर नियमित बातचीत शुरू करते हुए फोन नंबरों का आदान-प्रदान किया।

उपहार और यूके की मुद्रा के बारे में कॉल के बाद, महिला दिल्ली पहुंची जहां उसे एहसास हुआ कि उसके साथ धोखाधड़ी हुई है। वह रायबरेली लौटी और इसी सप्ताह जिला पुलिस से संपर्क किया। एसपी ने अब लोगों को आकर्षक ऑनलाइन ऑफर और योजनाओं से सावधान रहने के लिए कहा है और उनसे साइबर अपराधियों से सुरक्षित रहने के लिए उन व्यक्तियों की प्रामाणिकता की पुष्टि करने के लिए कहा है जिनके साथ वे काम कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक राष्ट्रीय पहल के तहत इस साल मई में एक समर्पित हेल्पलाइन नंबर 155260 शुरू किया, जहां लोग ऑनलाइन धोखाधड़ी और साइबर अपराधों की रिपोर्ट कर सकते हैं। यूपी साइबर पुलिस प्रमुख त्रिवेणी सिंह ने कहा कि लोग किसी भी ऑनलाइन धोखाधड़ी की रिपोर्ट करने के लिए तुरंत 112 डायल कर सकते हैं।