अगरतला। भाजपा ने आरोप लगाया है कि राज्य में सीपीआई-एम के कैडर्स की ओर से फैलाई गई राजनीतिक हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 6 लोग घायल हो गए। मरने वाला शख्स पेशे से टीचर था। राज्य भाजपा के अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने कहा कि पिछले 24 घंटों में पांच अलग अलग राजनीतिक हिंसक घटनाओं में 1 व्यक्ति की मौत हुई है। देब ने कहा कि धालई जिले के मानु और चाइलेंगथा में पार्टी दफ्तरों को लूटा गया। जिससे तनाव व्याप्त हो गया। सीपीआई-एम के कैडर्स ने चाइलेंगथा में पार्टी दफ्तर पर हमला किया। जहां शिक्षक बाबुल मजूमदार की मौत हो गई जबकि दो भाजपा समर्थक गंभीर रुप से घायल हो गए। वेस्ट त्रिपुरा के मानु,खोवई,बारजला और गोलागहाटी और नॉर्थ त्रिपुरा के कुमारघाट में हुए हमलों में कम से कम पांच लोग घायल हो गए। 

देब ने कहा, हमलों का मकसद लोगों में तनाव उत्पन्न करना था क्योंकि सीपीआई-एम की ओर से प्रायोजित नाकेबंदी राज्यपाल तथागत रॉय के हस्तक्षेप के बाद नाकाम हो गई पार्टी का प्रतिनिधिमंडल डीजीपी एके शुक्ला से मिलेगा और उन्हें सत्तारुढ़ पार्टी की ओर से की जा रही हिंसा के बारे में जानकारी दी जाएगी। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि हमने भाजपा कार्यकर्ताओं पर हिंसा को तुरंत रोकने की मांग की है। गंगानगर इलाके से भी हिंसा की खबर आई है, जहां आईपीएफटी के समर्थकों ने कुछ दुकानों को लूट लिया। इसके बाद वहां तनाव व्याप्त हो गया। हालांकि शांति सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षा के कड़े इतंजाम किए गए हैं। पुलिस के मुताबिक तेलियामुरा-अम्पी रोड को आईपीएफटी के समर्थकों ने जाम कर दिया था। इस वाहनों की आवाजाही बाधित हो गई थी। सूत्रों केमुताबिक स्थिति को नियंत्रित करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे।