करीमगंज शहर में लोगों ने एक बांग्लादेशी महिला को पकड़ा है। बाद में उसे पुलिस को सौंप दिया गया। सूत्रों के अनूसार बांग्लादेशी महिला जब आॅटोचालक को किराया दे रही थी, तभी संदेह के आधार पर उसे पकड़ लिया। हुआ यूं कि महिला आॅटोचालक को किराया के रूप में दस रुपए के बांग्लादेशी नोट दे रही थी। जब आॅटोचालक ने बांग्लादेशी नोट लेने से मना कर दिया तो वहीं भीड़ इकट्ठा हो गई।


पूछताछ में महिला ने अपना नाम सहिनुर पाशा बताया जो बांग्लादेश के सुनामगंज के आलमपुर गांव की रहने वाली है। वह भारत में कैसे घुसी इसकी जानकारी अभी नहीं मिल पाई है। पुलिस ने महिला के पास से 2500 रुपए के बांग्लादेशी नोट बरामद किए हैं। आप को बता दे की राज्य सरकार असम में सभी बाहरी लोगों को एनआरसी के माध्यम से चिन्हित कर रही है। सरकार उनकों  आडेंटीफाई कर डिटेंशन कैंप में भेज रही है।