कोरोना कहर से हजारों लोग रोज मौत के मुंह में जा रहे हैं। श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कारों के लिए कई घंटों इंतजार करना पड़ रहा है और क्रबस्तानों में जहगें ही नहीं शव दफ्नाने को। दुनिया हालात बहुत ही गंभीर हो गए हैं। एक तरफ कोरोना से लाशें कई दिनों कर अंतिम संस्कार का इंतजार कर रही दूसरी और लाशों को पानी फेंका जा रहा है। इन सभी के बीच कोरोना लाश का वीडियो वायरल हो रहा है।

 

सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो सामने आया, जिसे देखकर हर कोई सन्न रह गया है। इसे देखने के बाद लोग हैरान में हैं और कह रहे हैं कि वाकई दुनिया में ऐसा भी हो सकता है। चिली के सेंटिआगो में रहने वाली 59 साल की मायरा अलोंजो नाम की एक महिला ने जीते जी अपना अंतिम संस्कार कर डाला और फ्यूनरल को उनके घर में आयोजित किया गया। रिश्तेदार शामिल हुए। बता दें कि मायरा कब्र में लेटी सब देख रही थी और उसके रिश्तेदार रोते हुए वीडियो बना रहे थे।


कोरोना की वजह से हो रही मौतों के कारण एक महिला मायरा काफी परेशान हो गई थी। महामारी में अपने जिन्दा रहने को सेलिब्रेट करने का फैसला किया और मरने का ढोग किया। अपना अंतिम संस्कार में मायरा के कई रिश्तेदार शामिल हुए और इस फ्यूनरल में महिला घंटों कब्र में लेटी रही। मायरा ने कब्र और कफ़न किराए पर लिया सफ़ेद के ड्रेस में कब्र में लेटकर गई। कुछ घंटों के बाद कब्र से उठी और संतरे का जूस पीया।


जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना में लोगों को डिप्रेशन दूर करने के लिए और कोरोना के भय से परेशान लोगों के लिए मायरा ने यह सब किया। हैरानी बात यह है कि मायरा ने इस फ्यूनरल में करीब 63 हजार रुपए खर्च किये हैं। फ्यूनरल में आए गेस्ट्स के नाश्ते का भी इंतजाम किया गया था। इवेंट खत्म होने के बाद महिला कब्र से उठी और अपने रिश्तेदारों को थैंक्स कहा।