शिवसागर ओएनजीसी के रुद्रसागर स्थित जीजीएस - 2 और जीजीएस- 1 के पाइप से कल से जारी कच्चे तेल के लगातार रिसाव के कारण इलाके के लोगों में डर का माहौल बना हुआ है । पाइप से बह रहा तेल पूरे इलाके में फैलता जा रहा है, जो पानी के साथ- साथ खेती की जमीन को भी बरबाद कर रहा है । 

मालूम हो कि पूर्व में भी इस पाइप से रिसाव को लेकर शिवसागर ओएनजीसी विभाग को अवगत कराने के बाद भी कोई भी कदम नहीं उठाया गया । इस प्रदूषण के संबंध में शिवसागर स्थित प्रदूषण नियंत्रण परिषद ने ओएनजीसी से विगत मई माह में कार्रवाई करने का आह्वान किया था, पर कोई भी उचीत कदम नहीं उठाया गया । 

शिवसागर प्रदूषण नियंत्रण कार्यालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार बाढ़ के पानी के साथ ओएनजीसी के जीजीएस पाइप से बहा तेल स्थानीय लोगों के घरों के साथ -साथ खेतों में भी फैल गया । इस स्थिति के मद्देनजर शिवसागर प्रदूषण नियंत्रण परिषद ने गुवाहाटी मुख्य कार्यालय को 18 जुलाई को पाइप लाइन को बंद  करने का आदेश दिया था । मालूम हो कि उस आदेश पत्र में यह भी बताया गया है कि जब तक ओएनजीसी के ये दोनों पाइप लाइन नए नहीं लगाए जाएंगे तब तक यह आदेश बरकरार रहेगा ।