बंगाली फिल्म एक्ट्रेस और टीएमसी सांसद नुसरत जहां (Nusrat Jahan) आजकल अपनी पर्सनल लाइफ की वजह से खबरों में छाई हुई हैं। नुसरत कभी निखिल जैन से शादी (Nusrat Jahan and Nikhil Jain marriage) फिर तलाक और फिर इस शादी को गैर कानूनी बता कर चर्चा में रही हैं। अब नुसरत जहां और निखिल जैन की शादी की वैधता को लेकर कोलकाता की एक अदालत (Kolkata Court) ने फैसला सुनाया है। 

कोर्ट ने कहा कि दोनों की शादी कानूनी तौर पर मान्य नहीं है। कोर्ट में निखिल जैन (Nikhil Jain marriage) ने परिवाद दायर किया था। निखिल ने दावा किया कि भारत लौटने के बाद वे दोनों साथ रहने लगे, लेकिन इसके बाद उनके बीच संबंध खराब हो गए और नुसरत इस संबंध को बरकरार रखने के लिए तैयार नहीं थीं। वहीं नुसरत (Nusrat Jahan) ने दावा किया था कि 2019 में तुर्की में की गई उनकी शादी गैरकानूनी है। विशेष विवाह अधिनियम का पालन नहीं किया गया था। उन्होंने कहा कि उनके बीच महज एक लिव-इन रिलेशनशिप थी और उनका अलगाव बहुत पहले हो गया था । कोर्ट ने भी नुसरत के दावे को सही ठहराते हुए निखिल के साथ उनकी शादी को अमान्य करार दे दिया है। स्पेशल मैरिज एक्ट (special marriage act) के तहत नुसरत-निखिल की शादी  (Nusrat-Nikhil marriage) वैध नहीं मानी जाएगी। कोलकाता की एक कोर्ट ने कहा, तुर्की के बोडरम में 19 जून 2019 को हुई कथित शादी कानूनी रूप से वैध नहीं है।

निखिल जैन (Nikhil Jain) के साथ अपनी शादी को लेकर उठे विवाद पर हाल ही में नुसरत जहां ने मीडिया चैनल से बातचीत करते हुए अपनी बात सामने रखी थी। नुसरत ने कहा था, मुझे उन्हें कुछ नहीं कहना है, उन्होंने न तो मेरे होटल के बिल भरे हैं और न ही मेरे शादी के खर्चे उठाए हैं। मेरी छवि को गलत तरफ से दर्शाया गया है, इसलिए मैं अब ये सब बातें क्लियर कर रही हूं। मैं पूरी तरह से ईमानदार हूं’। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए नुसरत जहां ने कहा किसी को भी अपनी चीजों के लिए दोष देना बहुत ही आसान काम हैं, लेकिन उन्होंने ऐसा बिलकुल नहीं किया।