नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) रैंक के सक्सेसिव ऑर्डर के आधार पर देश के मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में प्रवेश पाने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए NEET की मेरिट सूची तैयार करती है। यह वो रैंक होती है जो उम्मीदवार अपने अंकों के आधार पर प्राप्त करते हैं।

NEET की मेरिट सूची तैयार करने के बाद, प्राधिकरण इसे स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (DGHS) को सौंप देता है, जो सेंट्रलाइज काउंसिलिंग प्रोसेस के लिए अथॉरिटी को भेजी जाती है। आज आप एनटीए नीट परीक्षा का रिजल्ट  nta.ac.in, ntaneet.nic.in पर देख सकते हैं। इसके बाद, DGHS राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के काउंसलिंग अधिकारियों के लिए NEET मेरिट सूची को आगे फॉरवर्ड करता है। ये अथॉरिटी राज्य काउंसलिंग के लिए NEET मेरिट सूची तैयार करेगी। NEET मेरिट सूची के बारे में ये भी तथ्य जानें।
NEET AIR मेरिट सूची में उन सभी उम्मीदवारों के नाम आते हैं जो अपनी रैंक के साथ एग्जाम देते हैं। NEET की AIR मेरिट लिस्ट में उम्मीदवारों की कैटेगरी को शामिल नहीं किया जाता है। AIQ मेरिट सूची में ऑल इंडिया कोटा में उन उम्मीदवारों के नाम प्रदर्श‍ित होते हैं जो 50 प्रतिशत आरक्षण के लिए चुने गए हैं। इसमें जम्मू और कश्मीर राज्य के उम्मीदवारों को शामिल नहीं किया जाएगा क्योंकि वे केंद्रीकृत परामर्श प्रक्रिया से बाहर हैं।

साथ ही, यदि कोई अन्य उम्मीदवार व्यक्तिगत रूप से पात्रता का दावा करना चाहते हैं, तो उन्हें एक ऑनलाइन स्व-घोषणा पत्र प्रस्तुत करना होगा जो कि पुष्टि पृष्ठ के साथ मुद्रित किया जाएगा और काउंसलिंग के दौरान प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
राज्य मेडिकल काउंसिल उम्मीदवार की अधिवास पात्रता जैसे कारकों के आधार पर काउंसलिंग के लिए अपनी योग्यता सूची तैयार करते हैं। यह एक ही राज्य के आवेदकों के साथ तुलनात्मक पैमाने पर आवेदकों की राज्य रैंक का भी प्रतिनिधित्व करेगा।

बता दें क‍ि नेशनल एंट्रेंस कम एलिजिबिलिटी टेस्ट (NEET 2020) के नतीजे 16 अक्टूबर को यानी आज NTA द्वारा घोषित किए जाएंगे। इस साल, NEET 2020 परीक्षा 3,800 केंद्रों पर आयोजित की गई थी। परीक्षा में कुल उम्मीदवारों में से लगभग 90 प्रतिशत उपस्थित हुए थे।