नगांव । पूरे राज्य के साथ ही नगांव में राष्टीय नागरिक पंजी ( एनआरसी ) का सत्यापन का काम शुरु को चुका है । मिली जानकारी के अनुसार उच्चतम न्यायालय द्वारा एनआरसी मसौदे के लिए समय सीमा न बढाने के बाद 31 दिसंबर तक मसौदा प्रति निकालने का फरमान दिया जा चुका है । 

इसके बाद एनआरसी के राज्यिक संयोजक प्रतीक हाजैला ने हर जिले के जिला कलेक्टर को इसे जल्द संपादन का निर्देश दिया है । साथ में यह भी कहा है कि एनआरसी संपादन में अगर कोई बाधा पहुंचाता है तो तुरंत उसे धर -पकड़ किया जाए और उस पर कानूनी कार्यवाही किया जाए । 

इस कार्य में तैनात सभी शिक्षक गण एवं  विभागीय अधिकारी कागजात की जांच के लिए पूरी तरह तत्पर है तथा अगर ये कहा जाए कि युद्ध स्तर पर कार्य चल रहा है तो गलत नहीं होगा । हर वार्ड और हर पंचायत में निर्धारित स्थान पर एनआरसी  के कागजात का सत्यापन हो रहा है। 

   

  

जिसमें हल्की-फुल्की हो या फिर छोटी बडी उसे सत्य कागजात देख  कर ठिक किया जा सकता है । इस काम में प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद  है । 1 नं. वार्ड पार्षद गोपाल पोद्दार अपने वार्ड में मुस्तैद है कि कहीं कोई वंचित न रह जाए ।

 वहीं अन्य बार्ड पार्षदों से भी लोग यही आशा कर रहे है हालांकि कुछ वार्डों में वार्ड पार्षद सहयोग कर रहे है । पंचायत द्वारा जारी कागजात को उच्चतम न्यायालय ने सपोर्टिंग डॉक्यूमेंट के रुप में मान्यता दी है । ये डॉक्यूमें  तभी कारगर होगा जब मूल कागजात पूरी तरह पक्का हो । इन दिनों आम लोग भी हर केंद्र में जाकर पूछताछ कर रहे है कि ताकी एक शुद्ध और साफ एनआरसी बन सके ।