अब लोकसभा की कार्यवाही आप एक एप के ज़रिए सीधे अपने मोबाइल फोन पर देख सकेंगे।  लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ऐलान किया है कि लोगों तक संसद से जुड़ी ज़्यादा से ज़्यादा जानकारी पहुंचाने के लिए एप बनाया जा रहा है।  इस एप में लोकसभा टीवी का लाइव प्रसारण तो उपलब्ध होगा ही , संसद की पुरानी कार्यवाही और उससे जुड़े दस्तावेज़ों का पूरा लेखा जोखा भी रहेगा। 

इसके अलावा संसद की लाइब्रेरी को भी पूरी तरह डिजिटल करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।  लोकसभा अध्यक्ष के मुताबिक़ संसद भवन की लाइब्रेरी में 1854 के बाद से हुए सभी बहस और कार्यवाहियों से जुड़े दस्तावेज़ मौजूद हैं।  भारत की आज़ादी के पहले अंग्रेज़ों के शासनकाल में विधानमंडल को अलग अलग नामों से जाना जाता था। 

संसद के मॉनसून सत्र की शुरुआत 19 जुलाई से होने जा रही है।  कोरोना की दूसरी लहर के बीच शुरू हो रहे इस सत्र में शामिल होने के लिए उन सांसदों को आरटीपीसीआर टेस्ट से छूट दी गई है जिन्हें वैक्सीन की दोनों डोज़ लग चुकी है।  हालांकि जिन सांसदों ने एक ही डोज़ या कोई डोज़ नहीं लिया है, उन्हें भी आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने की अनिवार्यता नहीं रहेगी। उनके पास टेस्ट करवाने या न करवाने का विकल्प रहेगा। 

19 जुलाई से शुरू हो रहे मानसून सत्र के निर्बाध संचालन के लिए लोकसभा अध्यक्ष 18 जुलाई यानि रविवार को सभी दलों के नेताओं के साथ चर्चा करेंगे।  लोकसभा अध्यक्ष ने बताया कि सत्र में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा।