Twitter यूजर्स अब एक बार फिर उसके Blue Tick या Blue Badge के लिए एप्लाई कर सकते हैं। कंपनी ने एक बार फिर अपना 'वेरिफिकेशन एप्लिकेशन प्रॉसेस' शुरू करने की घोषणा की है। इसके जरिये यूजर Blue Tick के लिए एप्लाई कर सकते हैं। हालांकि कंपनी के अनुसार केवल उन्हीं यूजर को ये Blue Tick मिलेगा जिनकी एप्लिकेशन उनके तय किए गए नियमों को पूरा करती हो। ट्विटर ने अपने इस फीचर को साल 2017 में बंद कर दिया था। जिसके बाद से अब तक वो खुद से अकाउंट का चयन कर उन्हें वेरिफाई करती थी।

Twitter के अनुसार, वेरिफिकेशन के लिए एप्लिकेशन प्रॉसेस अगले गुरुवार से शुरू हो जाएगी। साथ ही अगले कुछ हफ्तों में इसे पूरी तरह रोल आउट कर दिया जाएगा। हमारे यूजर अब खुद से इस Blue Tick के लिए आवेदन करेंगे। हम अपने नियमों के अनुसार इन एप्लिकेशन की जांच करके यूजर को चार हफ्ते के अंदर अपना जवाब दे देंगे। यदि किसी यूजर की एप्लिकेशन रिजेक्ट हो जाती है तो वो 30 दिन के बाद इसके लिए दोबारा एप्लाई कर सकता है।

ट्विटर ने इस बार Blue Tick के आवेदन के तरीकों और अपने वेरिफिकेशन के नियमों में भी कई बदलाव किए हैं। नए नियमों के अनुसार आवेदन करने वाले यूजर का अकाउंट पिछले छह महीनों के दौरान एक्टिव होना चाहिए. ट्विटर ने साथ ही कार्यश्रेत्र को भी आवेदन का आधार बनाया हैं। नए नियमों में सरकार, कंपनियों, ब्रांड एवं संगठन, न्यूज ऑर्गनाईजेशन एवं पत्रकार, मनोरंजन, स्पोर्ट्स एवं गेमिंग, एक्टिविस्ट के अलावा सोशल मीडिया पर प्रभावी लोगों को शामिल किया गया है. साथ ही इस साल के अंत तक ट्विटर की योजना इनमें वैज्ञानिकों, धर्मगुरुओं और शिक्षविदों को जोड़ने की भी है।

अब यूजर्स को अपनी प्रोफाइल सेटिंग्स में Blue Tick के लिए आवेदन करने का ऑप्शन मिलेगा। साथ ही आपका अकाउंट कम्प्लीट होना चाहिए। प्रोफाइल इमेज और नाम के अलावा आपका ईमेल और फोन नंबर भी वेरिफाइड होना चाहिए। ट्विटर एप्लिकेशन एप्रूव करने से पहले सोशल मीडिया पर लोगों के पिछले आचरण की भी जांच करेगा। वो ये सुनिश्चित करेगा कि यूजर ने ट्विटर या अन्य कहीं पर कोई ऐसा कोई आपत्तिजनक पोस्ट ना किया हो जिस से किसी संगठन विशेष की श्रेष्ठता सिद्ध होती हो।