नई दिल्ली। टेलीकॉम रेग्यूलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने शुक्रवार को जारी किए एक फैसले में टेलिकॉम यूजर्स को बड़ी राहत दी है। TRAI ने हाल ही में टेलिकॉम टैरिफ को लेकर कहा है कि टेलिकॉम कंपनियों को अब ऐसे रिचार्ज प्लान पेश करने होंगे जिनकी वैधता 30 दिन की हो न कि 28 दिनों की। इसके साथ ही आदेश में कहा गया है कि 30 दिनों की वैधता वाले प्लान के लिए नोटिफिकेशन जारी करनी होगी और वो भी 60 दिनों के भीतर।

TRAI का कहा कि कंपनियों को कम से कम एक ऐसा प्लान जरूर अपने पोर्टफोलियो में रखना होगा जिसमें 28 की जगह 30 दिन की वैधता हो। फिर चाहे वो कोई स्पेशल टैरिफ वाउचर हो या फिर कॉम्बो वाउचर। साथ ही ऐसा भी होना जिससे वो इन प्लान्स का अगर यूजर दोबारा रिचार्ज कराना चाहें तो मौजूदा प्लान की ही तारीख से करा सकें।

बता दें कि कि पिछले काफी समय से यूजर्स इस बात को लेकर शिकायत दर्ज कर रहे थे कि टेलिकॉम कंपिनयां उन्हें 30 नहीं बल्कि 28 दिन की वैधता देती हैं। ग्राहकों की मानें तो हर माह 2 दिन की कटौती कर टेलिकॉम कंपनियां एक साल में तकरीबन 28 से 29 दिन की बचत कर लेती हैं। ऐसे में टेलिकॉम कंपनियों को हर साल 12 की जगह 13 रिचार्ज कराने होते हैं। अगर कोई तीन महीनों का रिचार्ज कराता है तो उसे 90 दिनों की वैधता मिलने की बजाय मभ 84 दिन की ही वैधता मिलती है। और दो महीनों का रिचार्ज वाले प्लान में 60 दिन की जगह 54 या 56 दिनों की वैधता मिलती है।