सेना और राज्य सरकार संयुक्तरूप से आम नागरिकों के हित में कार्य करेगी। शनिवार को सिविल नागरिक सैन्य सम्मेलन में इसको लेकर चर्चा हुई। झारखंड-बिहार के सब एरिया मुख्यालय में आयोजित सम्मेलन की अध्यक्षता मध्य भारत एरिया के जीओसी ले. जनरल एस मोहन (सेना मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल) और राज्य के मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने संयुक्त रूप से की। 

सम्मेलन में कानून व्यवस्था, भूतपूर्व सैनिक कल्याण, भूमि, बुनियादी ढांचों के विकास और बिहार राज्य सैन्य बलों व राज्य प्रशासन के बीच संयुक्त समन्वय की आवश्यकता पर बल दिया गया। इसके अलावा कई मुद्दों पर चर्चा हुई। भविष्य में भी आपसी समन्वय के साथ आगे बढ़ने पर जोर दिया गया। सम्मेलन के अंत में सेना व नागरिक प्रशासन ने संयुक्त रूप से बिहार में विकास परियोजनाओं का संचालन करने का एक प्रस्ताव पारित किया।

बता दे कि सब एरिया व बिहार सरकार के संयुक्त प्रयास से 2012 के बाद इस सम्मेलन का आयोजन किया गया। संचालन समिति की अध्यक्षता जीओसी मेजर जनरल राजपाल पुनिया (युद्ध सेवा मेडल) व गृह विभाग के अतिरिक्त सचिव चैतन्य प्रसाद ने की।

सम्मेलन के अंत में मेजर जनरल पुनिया ने मुख्य सचिव को स्वलिखित पुस्तक ऑपेरशन खुकरी भेंट की। मौके पर बीआरसी के समादेष्टा बिग्रेडियर आलोक खुराना, डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह, डीजीपी एसके सिंघल, एसएसपी उपेन्द्र शर्मा समेत सैन्य व राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।