रेल में यात्रा करते समय यात्री अब गोलगप्पे और चाट का स्वाद भी ले सकते हैं।  इसकी आईआरसीटीसी ने तैयारी शुरु कर दी है।  सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो बिहार के गया रेलवे स्टेशन से गुजरने व खुलने वाले महत्वपूर्ण ट्रेनों के पेंट्रीकार में यह सुविधा दी जाएगी। 

 ई- केटरिंग में यह सुविधा लेने के लिए अनुमति मांगी गई है।  कम रेट पर गोलगप्पे व चाट रेलयात्रियों को खिलायी जायेगी।  अनुमति मिलने के बाद आईआरसीटीसी की वेबसाइट ई- कैटरिंग सुविधा में खाने के साथ इन चीजों को भी परोसने के लिए अधिकृत कर दिया जायेगा। 

यात्रियों के लिए राहत यह भी है कि वह चाहे तो गोलगप्पे या चाट का भुगतान आनलाइन या फिर कैश आन डिलीवरी भी कर सकते हैं।  यदि सामान गुणवत्ताहीन या पसंद नहीं आया तो उन्हें शिकायत करने पर तत्काल किया गया भुगतान रिफंड भी हो जाएगा। 

यात्रियों को मोबाइल पर फूड ऑन ट्रैक एप डाउनलोड करना होगा. इसमें पीएनआर नंबर दर्ज करने के विकल्प में जाकर स्टेशन चुनना होगा।  स्टेशन क्लिक करने के मेनू दिखने लगेगा।  सेलेक्ट करते ही तत्काल ओटीपी आयेगा।  कुछ देरी के बाद बुकिंग कंफर्म होने की सूचना मिलेगी।  सूचना मिलने के बाद उक्त यात्री को गोलगप्पे व चाट उपलब्ध करा दिया जायेगा। 

कोरोना काल में जब पेंट्रीकार में खाना पकाने पर प्रतिबंध किया गया तो यात्रियों ने ई- केटरिंग के प्रति रुचि दिखानी शुरू की।  इसी बीच शहर के एक रेस्टोरेंट टिफिनाक्स ने नयापन लाने के लिए खाना के साथ गोलगप्पे और कुल्हड़ चाट उपलब्ध कराने का प्रस्ताव रखा।