निवर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अब कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के नए पड़ोसी होंगे। कोविंद कार्यकाल पूरा होने के बाद राष्ट्रपति भवन से 12, जनपथ चले जाएंगे। कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को पूरा होगा। उसके बाद 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह होगा।

ये भी पढ़ेंः सावधानः मौसम विभाग की बड़ी सावधान, हो जाएं सावधान, 5 दिन तक लगातार बारिश की चेतावनी


सोनिया 10, जनपथ में रहती हैं, जबकि कोविंद 12 जनपथ में रहेंगे, जो लुटियंस दिल्ली के सबसे बड़े बंगलों में से एक है। इस बंगले में पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान करीब 30 साल तक रहे। 2020 में उनके निधन के बाद भी उनका परिवार वहीं बना रहा, लेकिन हाल ही में उनके बेटे और लोकसभा सांसद चिराग पासवान ने यह बंगला खाली कर दिया।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली वाले सावधानः आज होगा जाम-डायवर्जन से सामना, क्योंकि ED के सामने पेश होंगे सोनिया गांधी


12 जनपथ वही बंगला है, जिसमें 2004 में सोनिया ने पासवान से मुलाकात की थी और यूपीए का गठन हुआ था। जल्द ही कोविंद यहां रहने आएंगे, फिलहाल उनके परिवार का सामान बंगले में लाया जा रहा है।बंगले में रंग-रोगन हो रहा है और फर्नीचर बदले जा रहे हैं। सुरक्षाकर्मियों के लिए बने कमरों की भी रंगाई की जा रही है। वहीं, सुरक्षा कारणों से बंगले के चारों ओर कंटीले तार लगाए गए हैं। कोविंद को जीवनभर कई तरह के सरकारी भत्ते मिलते रहेंगे। राष्ट्रपति की पत्नी सविता कोविंद को भी 30,000 रुपये की सहायता राशि मिलती रहेगी।