नई  दिल्ली।  कांग्रेस पार्टी ने नोटबंदी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने के लिए कमर कस ली है. बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में इस मुद्दे पर अहम बैठक हुई जिसमें 6 दलों के साथ पार्टी ने विपक्षी दलों की कॉरडिनेशन कमेटी बनाई है। 

यह बात गुलाम नबी आजाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताई. उन्होंने बताया, ' कांग्रेस अध्यक्ष ने विपक्षी दलों की कॉर्डिनेशन कमेटी बनाई है. इस कमेटी में 6 दलों के नेता शामिल हैं। 

इसके अलावा उन्होंने बताया कि नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर 8 नवंबर को काला दिवस के रूप में मनाएगी। 

गुलाम नबी आज़ाद ने कहा, 'नोटबंदी को एक साल होने वाले हैं. उस वक्त इस नियम में 135 बार परिवर्तन करना पड़ा, कई लोगों की जानें गई, इसके लिए हम विरोध दर्ज करते हुए 8 नवंबर को ब्लैक डे मनाएंगे.'

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के असर से देश को नुकसान हुआ है. देश के साथ धोखा हुआ है. उन्होंने बताया कि इस मौके पर 18 विपक्षी दल सरकार से सवाल पूछेंगे. गुलाम नबी आज़ाद ने नोटबंदी को स्कैम ऑफ द सेंचुरी करार दिया है। 

इसके अलावा कश्मीर मुद्दे पर उन्होंने कहा, 'केंद्र सरकार कश्मीर पर फेल है. सब कुछ बर्बाद करके बातचीत करने चले हैं मोदी जी.' इसके साथ ही उन्होंने नसीहत भरे अंदाज़ में कहा, 'अगर केंद्र सरकार ने हमारी बात सुनी होती तो हमारे सैनिक नहीं शहीद होते। 

उन्होंने केंद्र से पूछा, 'कश्मीर मामले पर केंद्र सरकार बताएं कि कौन कौन स्टेकहोल्डर हैं. केंद्र सरकार कश्मीर मुद्दे पर किन किन लोगों से बातचीत करेगी.'