उत्‍तर भारत में जनवरी के आखिरी दिनों में भी सर्दी सितम कम नहीं होगा। उत्‍तरी इलाकों में अगले 2 से 3 दिन तक ठंड और बढ़ेगी। इसके साथ ही सर्द हवाएं भी लोगों को परेशान करेंगी। मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ के जम्मू-कश्मीर से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने से शुष्क उत्तर-पश्चिमी पवनें जोर पकड़ने लगेंगी। 

अगले दो से तीन दिन तक उत्तर भारत के मैदानी इलाकों और इससे लगे मध्य तथा पश्चिमी भारत के हिस्सों में इनका प्रभाव बना रहेगा। अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार तक तापमान में चार डिग्री सेल्सियस गिरावट का अनुमान है। वहीं अगर शीतलहर की बात करें तो अगले 3-4 दिनों तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्‍ली, राजस्‍थान, उत्‍तर प्रदेश, सौराष्‍ट्र और कच्‍छ में शीतलहर चलने का पूर्वानुमान है। इसके साथ ही 29 जनवरी तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्‍तर प्रदेश, राजस्‍थान, बिहार, हिमालयी क्षेत्रों और सिक्किम में घना कोहरा छाया रह सकता है। 29 जनवरी के बाद से कोहरे में कमी आएगी।

मौसम विभाग के अनुसार पूर्वी हवा बर्फ से ढके पश्चिमी हिमालय से आ रहीं उत्तर-पश्चिमी हवाओं की तरह ठंडी नहीं होतीं, जबकि बादल छाए रहने की वजह से तापमान में वृद्धि होती है। आईएमडी के मुताबिक दिल्‍ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्‍तर प्रदेश में अगले 2 दिनों तक कड़ाके की ठंड पड़ने का अनुमान है। वहीं बिहार में अगले 2 दिन तक अधिक ठंड पड़ सकती है।