भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने दक्षिण कर्नाटक में रेड अलर्ट जारी किया है। विभाग के अनुसार कोडागु, चिक्कमगलुरु और दक्षिण कन्नड़ जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा राज्य के अन्य क्षेत्रों को बारिश से राहत मिलने उम्मीद है। मानसून के सक्रिय रहने के कारण कोडागु, चिक्कमगलुरु और दक्षिण कन्नड़ जिले को पश्चिमी तट पर अगले दो दिनों तेज हवाओं के साथ भारी बारिश का अनुमान जताया गया है। कोडागु में बाढ़, भूस्खलन और सड़कों को नुकसान के कारण स्कूलों और कॉलेजों को शनिवार तक बंद रखने का आदेश दिया गया है।

कर्नाटक में बाढ़ का प्रकोप जारी है। कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, बुधवार को मरने वालों की संख्या 61 हो गई है। अगले 24 घंटों में पश्चिमी मध्य प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दक्षिण-पश्चिमी उत्तर प्रदेश और तटीय कर्नाटक के हिस्सों में भारी बारिश के आसार हैं। कोंकण व गोवा, केरल, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ जगहों पर भारी बारिश की उम्मीद है । पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, पूर्वी बिहार तथा झारखंड, उत्तरी ओडिशा और पूर्वोत्तर भारत में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। देश के बाकी हिस्सों में अलग-अलग स्थानों पर हल्की बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर मध्यम तीव्रता के साथ बारिश देखने को मिल सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार मानसून ट्रफ इस समय दिल्ली एनसीआर के करीब चल रहा है। इसके चलते अगले कई दिन तक बारिश की संभावना बनी रहेगी। अगले सप्ताह से मौसम फिर करवट लेगा। मौसम विज्ञानियों के अनुसार पूर्वांचल में मानसून की सक्रियता बनी हुई है। रह रहकर बारिश भी हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले सप्‍ताह तक बादलों की आवाजाही होती रहेगी और बारिश भी होगी।गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने गुरुवार को गोवा में बचाव और राहत कार्यों में शामिल हजारों लोगों का दिल से आभार व्यक्त किया। सावंत ने गुरुवार को पणजी में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिए गए भाषण में कहा कि आपदा प्रबंधन के प्रयासों में अधिकारियों द्वारा की गई मदद को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता है।