संयुक्त राष्ट्र परमाणु एजेंसी ने कहा कि उत्तर कोरिया ने अपने मुख्य परमाणु रिएक्टर के संचालन को फिर से शुरू कर दिया है। उत्तर कोरिया ने खुले तौर पर संयुक्त राज्य अमरीका के साथ लंबे समय से चल रही निष्क्रिय परमाणु नीति के बीच एक बार फिर से अपनी परमाणु ताकत को बढ़ाने की धमकी दी थी। 

अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी की सालाना रिपोर्ट प्योंगयांग के उत्तर में योंगब्योन में उत्तर कोरिया के मेन न्यूक्लियर कॉम्पलेक्स में 5 मेगावाट के रिएक्टर के संबंध में है। ये रिएक्टर प्लूटोनियम का प्रोडक्शन करता है, जो कि समृद्ध यूरेनियम के साथ परमाणु हथियार बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले दो प्रमुख तत्वों में से एक है। आईएईए की रिपोर्ट में कहा गया है, जुलाई 2021 की शुरुआत से रिएक्टर के संचालन के मुताबिक ठंडे पानी के निर्वहन समेत कई संकेत मिले हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल फरवरी के मध्य से जुलाई की शुरुआत तक योंगब्योन की रेडियोकेमिकल लैब के संचालन के संकेत मिले थे। आईएईए ने कहा है कि उत्तर कोरिया की परमाणु गतिविधियां गंभीर चिंता का कारण बनी हुई हैं। इसके अलावा, 5-मेगावाट रिएक्टर और रेडियोकेमिकल लैब के संचालन के नए संकेत ज्यादा परेशान करने वाले हैं।