बॉलीवुड अभिनेत्री नोरा फतेही (Nora Fatehi), सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) के 200 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा दर्ज एक मामले में अभियोजन पक्ष की गवाह के रूप में काम करेंगी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों को संदेह है कि सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) ने अभिनेत्री को कथित तौर पर एक महंगी कार गिफ्ट की थी। 

बाद में उसने खुलासा किया कि चंद्रशेखर ने उसे कार दी थी और उसकी पत्नी ने उसे प्यार की निशानी के रूप में एक बैग और एक आईफोन भी दिया था। नोरा फतेही (Nora Fatehi) ने अधिकारियों को बताया कि उन्हें चंद्रशेखर की पत्नी ने दिसंबर 2020 में चेन्नई में हुए एक कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया था। अपने बयान में उन्होंने कहा कि वह किसी भी मनी लॉन्ड्रिंग (money laundering case) से संबंधित कामों का हिस्सा नहीं थी और दावा किया कि वह इस मामले की शिकार थी।

मनी लॉन्ड्रिंग केस (money laundering case) में जब प्रवर्तन निदेशालय (ED) की तरफ से नोरा फतेही से पूछताछ में नोरा फतेही ने बीएमडब्ल्यू कार को लेकर बताया था कि उन्हें ये कार बतौर गिफ्ट नहीं बल्कि इवेंट में हिस्सा लेने के लिए दी गई थी। नोरा  (Nora Fatehi) ने बताया कि सुकेश की पत्नी लीना मारिया पॉल ने सबके सामने इसकी अनाउंसमेंट की थी।  आपके बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से सुकेश चंद्रशेखर, उसकी पत्नी अभिनेत्री लीना मारिया पॉल (actress lena maria paul) और अन्य छह लोगों के खिलाफ 200 करोड़ के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में चार्जशीट दायर की गई थी। जिसके बाद एक के बाद एक नई बातें सामने आ रही हैं। जैकलीन और नोरा समेत इस मामले में कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के नाम सामने आ रहे हैं। ऐसे में ईडी हर तरह से इस केस को खंगालने में जुटी हुई है।