कोरोना वायरस को लेकर देश भर में लगाए गए लॉकडाउन की वजह से काफी बच्चों की पढ़ाई डिस्टर्ब हुई।  जिनके पास सुविधा थी वो ऑनलाइन पढ़ाई करने लगे।  लेकिन इसमें कई ऐसे गरीब बच्चें भी है जिनको स्मार्टफोन का ऐक्सेस नहीं मिल पाता है।  अब उन बच्चों की मदद के लिए Nokia फोन बनाने वाली कंपनी HMD Global सामने आई है।  ताकि गरीब बच्चें भी स्मार्टफोन की मदद से अपनी पढ़ाई ऑनलाइन जारी रख सकें।  

HMD Global फिनलैंड की कंपनी है जिसके पास Nokia फोन्स बनाने का राइट है।  HMD Global के मुताबिक कंपनी 1.65 करोड़ रुपये के स्मार्टफोन गरीब बच्चों को डोनेट करेगी।  इससे उन्हें ऑनलाइन पढ़ाई में मदद मिलेगी।  HMD Global ये डोनेशन नोबल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी की संस्था KSCF के जरिए करेगी।  

इस प्रोग्रोम के तहत 1,740 नए Nokia स्मार्टफोन ग्रामीण और शहरी स्लम क्षेत्रों में रहने वालों बच्चों को दिए जाएंगे।  इस में वैसे बच्चें भी शामिल होंगे जो बाल-शोषण से बचें है और बंजारा समुदाय के पहले जनरेशन के लर्नर भी शामिल होंगे।  इस बात की जानकारी कंपनी ने एक प्रेस स्टेटमेंट में दी है।  HMD Global की वाइस प्रेसिडेंट सनमीत कोचर ने कहा कि वो कैलाश सत्यार्थी के फाउंडेशन के जरिए देश के वंचित बच्चों और युवाओं को शिक्षा देना चाहती है।  इस शिक्षा की वजह से उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा।  वो भी देश के अन्य बच्चों की तरह आगे बढ़ सकेंगे।  उनका भविष्य उज्ज्वल बनेगा। 

इस प्रोग्राम से दिल्ली, बिहार, कर्नाटक मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और झारखंड के 6,000 बच्चों को फायदा मिलेगा।  KSCF (Kailash Satyarthi Children's Foundation) के सीईओ एस.सी. सिन्हा ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से स्कुली पढ़ाई काफी प्रभावित हुई है।  इससे गरीब बच्चों को काफी नुकसान पहुंचा है।  इन बच्चों की पढ़ाई स्मार्टफोन नहीं होने की वजह से अधूरी रह गई।  ये ऑनलाइन शिक्षा नहीं ले पाएं।  अगर इन बच्चों को स्मार्टफोन मिलता है तो ये दोबारा से स्कुल से कनेक्ट हो पाएंगें।  इनकी पढ़ाई फिर से पटरी पर लौट आएगी।