असम में कोरोना वायरस का फिलहाल अब तक कोई मामला सामने नहीं आया है। असम सरकार के मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने रविवार को ट्वीट करके यह जानकारी दी। उन्होंने लिखा- कोरोना वायरस के संदेह में जिस साढ़े चार साल की बच्ची की जोरहाट मेडिकल कॉलेज और आरएमआरसी डिब्रूगढ़ में जांच की गई थी, वह टेस्ट में निगेटिव पाई गई है अर्थात् वह कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं है। असम में कोरोना वायरस संक्रमण का अब तक कोई मामला सामने नहीं आया है।


इससे पहले खबर आई थी कि चार साल की एक बच्ची कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई है। हालांकि, दोबारा पुष्टि के लिए उसे नमूने को आईसीएमआर भेजा गया है। बच्चे और उसके परिवार के साथ-साथ अस्पातल के उन कर्मचारियों को भी पृथक कर दिया गया जिन्होंने उसकी देखरेख की थी।


उपायुक्त रोशनी अपारांजी कोराती ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा था कहा कि जोरहाट मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में हुई जांच के शनिवार शाम को आए नतीजे में लड़की संक्रमित पाई गई। उन्होंने कहा, 'हमने नमूनों को दोबारा जांच के लिए डिब्रूगढ़ जिले में लाहोवाल की आईसीएमआर-आरएमआरसी प्रयोगशाला में भेजा है।' उपायुक्त ने बताया कि लड़की और उसका परिवार जिले के पुलिबोर इलाके में रहता है और हाल ही में इन लोगों ने बिहार से जोरहाट आने के लिए रेल यात्रा की थी। उन्होंने बताया कि परिवार 19 मार्च को जोरहाट आया था और 20 मार्च को स्वास्थ्यकर्मियों ने अपने दौरे के दौरान लड़की में लक्षण देखे और उसे अस्पताल लाया गया।


देश में कोरोना (Coronavirus) का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। भारत में कोविड-19 (COVID-19) संक्रमित लोगों का आंकड़ा 315 हो गया है।  अब तक चार लोगों की जान जा चुकी है। कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए पीएम मोदी ने आज देश के लोगों से जनता कर्फ्यू का आह्वान किया है। इस दौरान, लोगों से घर से बाहर नहीं जाने की अपील की गई है।