भारत में रेप केस के आरोपी नित्यानंद ने रिजर्व बैंक के बाद अब कैलासा के लिए फ्लाइट भी शुरू कर दी है।
भगोड़े नित्यानंद की वेबसाइट के मुताबिक कैलासा नाम के इस देश के लिए वीजा भी होगा। इसे लेकर नित्यानंद का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह कैलासा के बारे में बता रहा है कि इस देश के लिए उसकी खुद की चार्टर्ड फ्लाइट होगी। इतना ही नहीं बल्कि कैलासा का अपना संविधान और कानून भी होगा।
यौन शोषण का आरोप झेल रहे नित्यानंद ने दावा किया है कि उसने देश से 16000 किलोमीटर दूर अपना देश बना लिया है। लैटिन अमेरिकी देश इक्वाडोर के करीब इस राष्ट्र की भाषाओं को लेकर कहा गया है कि संस्कृत, इंग्लिश, तमिल यहां की भाषाएं होंगी।

ए राजशेखरन उर्फ स्वामी नित्यानंद ने अपने लिए एक नई दुनिया बना ली है। कैलासा के बारे में वेबसाइट पर दावा किया गया है कि यह दुनिया का एकमात्र हिंदू राष्ट्र होगा जहां का अपना प्रधानमंत्री, कैबिनेट, कानून, संविधान और सेना भी होगी। इसे लेकर बाबा नित्यानंद का कहना है कि उसने अलग देश प्रताड़ित हिंदुओं को शरण देने के लिए बनाया है।
वेबसाइट पर कहा गया है कि कोई भी हिंदू यहां की नागरिकता ले सकता है। हिंदू धर्म के लोगों चाहे वो किसी भी जाति के हों एक सुरक्षित जगह चाहते हैं तो यहां आ सकते हैं। इक्वाडोर के नजदीक नित्यानंद ने टापू खरीदकर इसे कैलासा राष्ट्र बनाने के साथ ही अपनी वेबसाइट पर बताया है कि यहां का राष्ट्रीय पशु नंदी बैल होगा। राष्ट्रीय पेड़ बरगद होगा और राष्ट्रीय फूल कमल।
वो अपराधी जिसे जेल में होना चाहिए वह खुद को भगवान शिव का अवतार बताता है। भगोड़े नित्यानंद ने देश से भागकर अब विदेश में अपना जाल फैलाने की योजना बना ली है। नित्यानंद पर रेप और किडनैपिंग के गंभीर आरोप हैं। वह दो बार जेल भी जा चुका है। कैलासा को अपना देश बताने वाले नित्यानंद ने कहा है कि इसका अपना खुद का झंडा भी होगा जिस पर नित्यानंद की तस्वीर है।