पंजाब नेशनल बैंक घोटाला (पीएनबी स्कैम) मामले में नीरव मोदी की बहन और सरकारी गवाह पूर्वी ने ब्रिटेन के अपने बैंक खाते में पड़े 17.25 करोड़ रुपये भारत सरकार को भेजे हैं। यह जानकारी प्रवर्तन निदेशालय ने दी है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा कि भगोड़ा कारोबारी नीरव मोदी की बहन ने ब्रिटेन के बैंक खाते से 17 करोड़ से अधिक रुपये भारत सरकार को भेजे हैं। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से कर्ज धोखाधड़ी मामले में मदद के बदले आपराधिक कार्यवाही से उन्हें छूट देने की अनुमति दी गई थी। ईडी ने एक बयान में कहा कि 24 जून को पूर्वी मोदी ने प्रवर्तन निदेशालय को सूचित किया कि उन्हें लंदन, ब्रिटेन में उनके नाम पर एक बैंक खाते का पता चला जो उनके भाई नीरव मोदी के कहने पर खोला गया था और यह धन उनका नहीं था।



बयान में कहा गया है कि चूंकि पूर्वी मोदी को पूरा और सही खुलासा करने की शर्तों पर माफी की अनुमति दी गई थी, इसलिए उन्होंने ब्रिटेन के बैंक खाते से 23,16,889.03 अमेरिकी डॉलर की राशि भारत सरकार, प्रवर्तन निदेशालय के बैंक खाते में भेज दी है। बयान के मुताबिक पूर्वी मोदी के इस सहयोग से प्रवर्तन निदेशालय करीब 17.25 करोड़ रुपये (23,16,889.03 अमेरिकी डॉलर) वापस हासिल कर सका है। नीरव मोदी वर्तमान में ब्रिटेन की जेल में है और भारत प्रत्यर्पण की उसकी याचिका खारिज हो चुकी है। नीरव मुंबई में पंजाब नेशनल बैंक की ब्रैडी शाखा से दो अरब डॉलर कर्ज की धोखाधड़ी के मामले में वांछित है।