NGT ने अरूणाचल प्रदेश सरकार को निर्देश दिया है कि गैर कानूनी तरीके से पेड़ काटने वालों पर कार्रवाई करें। इसके साथ ही नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने राज्य में होने वाली पेड़ों की अवैध कटाई पर भी रोक लगाने के लिए कहा है।

एनजीटी ने यह निर्देश उस केस की सुनवाई के बाद दिया है जिसमें पेड़ों की अवैध कटाई को लेकर मुद्दा उठाया गया था। यह मुद्दा खेलोंग फोरेस्ट डिविजन के पापुम फोरस्ट में अवैध कटाई को लेकर पाक्के—केस्सांग जिले के सेइजोसा में रहने वाले जोर्जो ताना तारा ने उठाया था

एनजीटी ने राज्य सरकार को यह भी निर्देश दिया है कि जहां पर अवैध कटाई हो रही है उन जगहों को चिन्हित करें और उन्हें रोकें। इसके लिए सरकार उच्च स्तरीय कमेटी का गठन करे और इसकी सूचना दें।

इसके अलावा यह भी कहा गया है कि वन विभाग के कर्मचारियों को सभी स्तरों पर मजबूत करें। इसके साथ ही फोरेस्ट कानूनों को मजबूत बनाकर उन्हें सख्ती से लागू करके वनों में पड़ों की संख्या बढ़ाई जाए।