मध्यप्रदेश में एक लुटेरी दुल्हन पति के सामने ही अपने प्रेमी के साथ बाइक पर बैठकर फरार (dulhan run away with lover) हो गई। दुल्हन अपने साथ नगद और सोने-चांदी के जेवरात भी ले उड़ी। उधर, अब लड़की की कथित मौसी को लड़के के परिजनों ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।  पूछताछ में पुलिस को कई चौंकाने वाले खुलासे से हुए। पुलिस ने बताया कि दो सालों में आधा दर्जन से ज्यादा शादियां रचकर लोगों को लाखों रुपये का चूना लगाया है।

बता दें कि छिंदवाड़ा के दशरथ पटेल ने खुद को अनाथ बताने वाली रेणु के साथ मंदिर में सात फेरे लिए थे। इसके बाद वह अपनी पत्नी के साथ बाइक पर कोर्ट में शादी रजिस्टर करवाने जा रहा था, लेकिन इसी दौरान बाइक पर बैठी दुल्हन बाइक (looteri dulhan) से उतरी और दूसरे बाइक सवार युवक के साथ भाग निकली। भागने के पहले दुल्हन यानी रेणु ने दशरथ से 30 हजार रुपए नगद ले लिए थे. इसके अलावा वह करीब 60 हजार रुपये के सोने-चांदी के जेवर भी पहने हुए थी।

दुल्हन के अचानक भागने के बाद दूल्हा और उसके रिश्तेदार तुरंत ही कोर्ट परिसर वापस लौटे जहां पर उसकी मौसी अर्चना बर्मन को वकीलों ने घेर लिया। सूचना मिलने पर ओमती थाना पुलिस मौके पर पहुंची और महिला को पकड़कर थाने लाया गया। कथित मौसी अर्चना के पुलिस हिरासत में होने की सूचना मिलने पर देर रात दुल्हन रेणू (looteri dulhan) भी थाने पहुंची पर उसके पास कोई जेवर और पैसा नहीं था। पुलिस ने रेणू को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला वह धनवंतरी नगर की रहने वाली संगीता अहिरवार है, जिसने रेणू के नाम से फर्जी आधार कार्ड भी बनवा रखा था। शुरुआती पूछताछ में इसने बताया है कि 2 साल में इसने छह शादियां की है।