पूर्वोत्तर भारत के नागालैंड राज्य से सामाजिक एकता की एक ऐसी खबर सामने आई जो सभी के लिए मिसाल बन सकती है। यहां पर एक नव विवाहित का घर आग से जलकर राख हो गया था, लेकिन स्थानीय लोगों ने मिलकर उसका ऐसा साथ दिया जिसको वो जोड़ा शायद ही कभी भूल पाए। लोगों ने एकसाथ मिलकर नव विवाहित जोड़े को तुरंत नया घर बनाकर दे दिया। 

यह घटना नागालैंड के जांगखाम गांव है जहां 26 सितंबर को सबुह 7 बजे के आस पास एक घर में आग लग गई थी। हालांकि आग लगने की घटना से समय नव विवाहित जोड़ा घर से बाहर था जिससे उनको जान का नुकसान नहीं हुआ। हालांकि घर में रखा पूरा सामान जलकर राख हो गया। आग लगते ही लोगों ने उसें बुझाने की कोशिश की लेकिन छप्पर का घर होने के कारण उस पर काबू नहीं पाया जा सका।

बताया गया है कि जिस घर में आग लगी है उसके मालिक का नाम खटनाई कोयांक है जिसकी हाल ही में शादी हुई है। इस घटना के बारे में बताते हुए कोयांक का कहना है कि उसका सबकुछ जलकर राख हो गया, हालांकि वो किस्मत वाला है जो उस समय घर में नहीं था। हालांकि उसने लोगों द्वारा नया घर बनाकर देने के लिए उनका काफी आभार जताया। इतना ही नहीं बल्कि गांव वालों ने कोयांक को चावल, अनाज और अन्य जरूरी सामान भी मुहैया कराए हैं ताकि उसका गुजारा हो सके।