अमरीका में मकड़ी की नई प्रजाति मिली है। अत्यंत जहरीली इस मकड़ी के बारे में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि इसके एक डंक से इंसान दर्द से तड़पने लगता है। फ्लोरिडा के मियामी जू में दिखी यह जहरीली मकड़ी ब्राजील में पाए जाने वाली ब्लैक टारेंटयुला मकड़ी जैसी लगती है। इसको पाइन रॉकलैंड ट्रेपडर स्पाइडर (उम्मीडिया रिचमंड) नाम दिया गया है।

मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक मियामी जू के चीफ कंजरवेटर फ्रैंक रिडले का कहना है कि उनके लिए यह एक छोटे चमकदार काले टारेंटयुला के समान है। इस तरह की प्रजातियां घात लगाए शिकारियों की तरह होती हैं। वे नरम और रेतीली सतह पर जाल बुनकर अपने शिकार के फंसने का इंतजार करती हैं। इस दौरान वे खुद को छिपाए रखती हैं। जब शिकार फंस जाता है तो ये मकडिय़ां उसे पकडऩे के लिए अपने खोल से बाहर निकलती हैं।

वैज्ञानिकों के अनुसार नर मकड़ी का आकार छोटे सिक्के जितना होता है। मादा मकडिय़ां दो से तीन गुना ज्यादा बड़ी होती हैं। रॉकलैंड ट्रेपडर स्पाइडर जाल बुनने वाली मकड़ी है। जिससे यह अपने शिकारियों से छिपी रहती है और जाल में फंसने वाले शिकारों को खाती है। ऐसी मकडिय़ां अपने पूरे जीवनकाल में कई दशक तक एक ही स्थान पर जाल बुनकर रह सकती हैं। बताया जा रहा है कि मियामी जू कर्मचारियों ने पाइन रॉकलैंड जंगल में इस मकड़ी को देखा था। स्टाफ ने एक तस्वीर ली थी। जांच के दौरान पता चला कि मकड़ी की यह प्रजाति आज तक ज्ञात किसी भी दूसरी ज्ञात प्रजातियों से मेल नहीं खाती है। जॉर्जिया के पीडमोंट कॉलेज के डॉ. रेबेका गॉडविन ने बताया कि यह मौजूदा जीनस यूमिडिया का हिस्सा है। यह टारेंटयुला से संबंधित है और इसके बारे में पहली बार 1875 में स्वीडिश एराएनोलॉजिस्ट टेमरलान थोरेल ने बताया था।