देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत हो गई है जिसको लेकर पूरा देश सदमे में है। जनरल रावत का इस तरह असमय जाना बहुत बड़ी क्षति है। उनके निधन ने देश के सुरक्षा तंत्र से जुड़े सबसे बड़े पद को खाली कर दिया है, जिसे शीघ्रता से भरने के लिए सरकार जल्‍द ही प्रक्रिया शुरू की जा रही है। ऐसे में सवाल यह आता है कि देश का अगला सीडीएस कौन बनेगा।

हालांकि, इस पद के लिए 3 नाम सामने आ रहे हैं लेकिन इसमें सबसे ज्‍यादा संभावना आर्मी चीफ जनरल एम.एम.नरवणे के नाम पर सहमति बनने की रही है। माना जा रहा है कि अगले सीडीएस के तौर पर सरकार तीनों सेनाओं यानी कि आर्मी, नेवी और एयरफोर्स के चीफ के नाम पर चर्चा कर सकती है। जनरल नरवणे के अलावा एयरफोर्स चीफ मार्शल वी.आर.चौधरी और नेवी चीफ एडमिरल आर.हरि कुमार भी इस पद के उम्‍मीदवारों में शामिल हो सकते हैं।

अभी जहां पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ सैन्‍य टकराव है तो दूसरी तरफ भारत-पाकिस्‍तान सीमा पर भी तनाव की स्थिति है। ऐसे में सीडीएस के पद पर जल्‍द नियुक्ति करना बेहद जरूरी है। इसके लिए केंद्र सरकार इस पद के लिए तय किए गए सारे पैरामीटर्स के आधार पर जल्‍द ही प्रक्रिया शुरू करेगी। इसके लिए तीनों सेनाओं की सिफारिश के आधार पर पैनल बनाया जाएगा और जल्‍द ही नए सीडीएस के नाम का ऐलान किया जाएगा। कुन्नूर हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार शाम को कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्यॉरिटी (CCS) की आपात बैठक भी बुलाई थी।

जनरल रावत अगले सीडीएस की नियुक्ति के लिए पूरी प्रक्रिया शुरू कर चुके थे लेकिन उनके असामयिक निधन से यह काम अधूरा रह गया। उनका कार्यकाल मार्च 2023 में पूरा हो रहा था।