सावधान आपका एंड्रॉयड स्मार्टफोन खतरे में है क्योंकि आपके फोन समेत पर्सनल फोटोज और वीडियो पर हैकर्स की नजर पड़ चुकी है। अमेरिका की एक सिक्योरिटी फर्म ने इस साल की पहली सिक्येरिटी जारी करते हुए इस खतरे के बारे में चेतावनी दी है। फर्म ने इसको बेहद गंभीर बताते हुए 'क्रिटिकल' यानी कि बेहद खतरनाक कैटिगरी में रखा है। इसलिए एंड्रॉयड यूजर्स को सलाह दी गई है वो अपने फोन को गूगल को लेटेस्ट ओएस से अपडेट जरूरी तौर पर कर लें।

मीडिया फाइल पर हैकर्स की नजर दूसरी तरफ गूगल के अपडेट नोट्स के मुताबिक एंड्रॉयड में आया यह बग हैकर्स को एंड्रॉयड डिवाइस के मीडिया फ्रेमवर्क का ऐक्सेस दे देता है। सिक्योरिटी फर्म ने बताया कि इस बग के कारण अटैकर कहीं भी बैठकर यूजर के एंड्रॉयड स्मार्टफोन में खतरनाक कोड को इंस्टॉल कर मीडिया फ्रेमवर्क को कंट्रोल कर सकते हैं। मीडिया फ्रेमवर्क को हैक करने के साथ ही हैकर्स को यूजर के स्मार्टफोन में मौजूद सभी मीडिया फाइल्स (ऑडियो, विडियो और फोटो) का ऐक्सेस मिल जाता है।

गूगल ने इस बग को फिक्स करने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि एंड्रॉयड 8, 8.1, 9 और एंड्रॉयड 10 के लेटेस्ट वर्जन्स पर यह बग फिक्स जल्द ही पहुंच जाएगा। इस बग फिक्स के साथ कंपनी 6 और कमियों को दूर करने वाली है। गूगल का कहना है कि उसने अपने सभी एंड्रॉयड पार्टनर्स को इस समस्या के बारे में एक महीने पहले ही बता दिया था। उम्मीद की जा रही है कि वे सभी एंड्रॉयड पार्टनर्स डिवाइसेज के लिए जल्द ही बग फिक्स रिलीज करेंगे।

आपके फोन में लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम है या नहीं यह जानने के लिए आप फोन के सेटिंग में दिए गए सिस्टम ऑप्शन में जाकर अडवांस सेक्शन को चेक कर सकते हैं। यहां आपको सिस्टम अपडेट की जानकारी मिल जाएगी। आमतौर पर ज्यादातर सिस्टम अपडेट और सिक्योरिटी पैच ऑटोमैटिकली इंस्टॉल हो जाते हैं। वहीं, आप चाहें तो इस अपडेट को मैन्युअली भी चेक कर सकते हैं। इसके लिए सेटिंग में जाकर सिक्योरिटी ऑप्शन में अपडेट को चेक करना होता है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360