महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार एक बार फिर संकट में नज़र आ रही है।  एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने अब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले की बयानबाजी पर नाराजगी जाहिर की है।  

शरद पवार ने नाना पटोले को ‘छोटा आदमी’ कहकर संबोधित किया है। शरद पवार नाना पटोले के पुणे में दिए गए एक बयान से काफी नाराज़ हैं जिसमें उन्होंने डिप्टी सीएम अजित पवार पर निशाना साधा था।  शरद पवार ने साफ़ कहा- मैं छोटे लोगों की बातों पर प्रतिक्रिया नहीं दूंगा।  जब सोनिया गांधी कुछ कहेंगी, तब मैं प्रतिक्रिया दूंगा। 

उधर नाना पटोले के बयान पर शिवसेना ने कहा- नाना क्या क्या कहते और करते है इस पर महा विकास आगाड़ी का भविष्य निर्भर नहीं करता है।  शरद पवार उन्हें ‘छोटा इंसान’ कहते है यही उनकी कार्यकुशलता का प्रमाण है।  शिवसेना के मुखपत्र सामना में संजय राउत ने भी नाना पटोले पर तंज कसा है और महाराष्ट्र से दिल्ली तक सब पर निशाना साधा है।  उन्होंने कहा कि ये सरकार शरद पवार, सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे की मर्ज़ी से चल रही है। 

ऐसा माना जा रहा है कि पटोले ने जब से अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाली है, वह लगातार अपनी बयानबाजियों से ख़बरों में बने रहते हैं।  उनके इन बयानों से महा विकास अघाड़ी गठबंधन सरकार में भी दरार पैदा हो रही है। 

 उद्धव सरकार को लगातार उनके इन बयानों पर सफाई देनी पड़ती है।  यहां तक कि महाराष्ट्र कांग्रेस के सीनियर लीडर भी उनके इन बयानों से परेशान हैं।  महाराष्ट्र कांग्रेस के कुछ नेता जल्द ही शीर्ष नेतृत्व से बातचीत करने वाले हैं जिसमें वे साफ कर देंगे कि अगर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार चलानी है, तो पटोले को पद से हटाना होगा।