अब महाराष्ट्र में चल रही कांग्रेस समर्थित सरकार गिर सकती है। क्योंकि NCP के अध्यक्ष शरद पवार ने दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। इन दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात प्रधानमंत्री दफ्तर में दोपहर 12.20 से 12.40 बजे यानी करीब 20 मिनट तक चली। हालांकि, इन दोनों नेताओं के बीच क्या बात हुई ये अभी तक साफ नहीं हो सका है लेकिन महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से जारी घटनाक्रम के बीच इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें : नागालैंड में दुबारा लगाया जा सकता है AFSPA , जानिए ऐसा क्यों कहा नागालैंड के मुख्यमंत्री रियो ने

सियासी जगत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शरद पवार की मुलाकात पर सभी की निगाहें रहती हैं। दरअसल प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महाराष्ट्र के नेताओं के खिलाफ कार्रवाई शुरू की है। जिसका असर राजनीतिक गलियारों में भी देखने को मिल रहा है।

अब महाराष्ट्र की राजनीति में क्या नया होने वाला है, यह सवाल इसलिए खड़ा हुआ क्योंकि महाराष्ट्र के विधायकों के लिए मंगलवार को दिल्ली में एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के आवास पर भोज का आयोजन किया था। इस रात्रिभोज में तमाम पार्टियों के नेता मौजूद रहे, जिसमें केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी शामिल रहे।

यह भी पढ़ें : अब यूनाइटेड नगा काउंसिल ने की बड़ी मांग, पहाड़ी जिलों से भी AFSPA हटाए सरकार

प्रवर्तन निदेशालय की शिवसेना नेता संजय राउत पर की गई कार्रवाई से बीजेपी और शिवसेना आमने-सामने हैं। ऐसे में राउत और BJP नेताओं का एक ही डिनर पार्टी में आना कई अटकलों को जन्म देता है। राउत कई महीनों से लगातार केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी पर हमलावर रहे हैं।