पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद (Punjab Congress President) से इस्तीफा देने के कुछ दिनों बाद राज्य मंत्रिमंडल में कुछ नए चेहरों से नाराज नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने शनिवार को कहा कि वह कांग्रेस में कोई पद रखते हैं या नहीं, वह हमेशा पार्टी नेताओं राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के साथ खड़े रहेंगे। गांधी जयंती पर एक ट्वीट में, सिद्धू ने कहा, गांधी जी और शास्त्री जी के सिद्धांतों को बनाए रखेंगे। पद रहे या न रहे मगर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ खड़ा रहूंगा। सभी नकारात्मक ताकतें मुझे हराने की कोशिश करें, लेकिन सकारात्मक ऊर्जा के हर औंस से पंजाब को जीत मिलेगी, पंजाबियत (यूनिवर्सल ब्रदरहुड) जीतेगी और हर पंजाबी जीत जाएगी।

बताते चलें कि प्रदेश के नए डीजीपी और एडवोकेट जनरल की नियुक्ति पर सिद्धू ने सीएम चन्नी (Charanjit Singh Channi) से विरोध जताते हुए प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि पार्टी हाई कमान ने उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया और उन्हें मनाने का जिम्मा सीएम चन्नी को सौंप दिया। सीएम चन्नी ने सिद्धू से मुलाकात कर उनके गिले-शिकवे दूर किए। उनसे पैच अप होने के बाद अब सीएम चन्नी अपने काम में जुट गए हैं।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने किसान आंदोलनकारियों के खिलाफ पंजाब में दर्ज मुकदमों को वापस लेने का आदेश दिया है। ये मुकदमे रेलवे ट्रैक बाधित करने पर RPF की ओर से दर्ज करवाए गए थे। इसके साथ ही सीएम चन्नी ने कोरोना महामारी में अपने मां-बाप गंवा चुकी लड़कियों के लिए भी राहत की घोषणा की है।