कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को बड़ा झटका देने वाली है। ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस ने यह तय कर लिया है कि पंजाब में कांग्रेस का सीएम उम्मीदवार कौन होगा? अपने ट्विटर अकाउंट पर पार्टी ने एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो को देखने से ऐसा लग रहा है कि पार्टी की ओर से पंजाब में मुख्यमंत्री का चेहरा चरणजीत सिंह चन्नी (Congress Chief Minister face Charanjit Singh Channi) ही होंगे।

बता दें कि पंजाब विधानसभा चुनाव की तारीख को लेकर चुनाव आयोग की ओर से बड़ा अपडेट आया है। चुनाव आयोग ने संत रबिदास जयंती के कारण मतदान की तारीख 14 फरवरी से 20 फरवरी कर दी है। पंजाब में किसी भी पार्टी ने अपने सीएम कैंडिडेट के नाम की घोषणा नहीं की है। लेकिन आज आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi party) अपने सीएम कैंडिडेट का नाम फाइनल कर सकती है। लेकिन ये बात भी है कि अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal), भगवंत मान (Bhagwant Maan) को अपनी पसंद कह चुके हैं। बस उनके नाम पर मुहर लगना बाकी है।

बता दें कि पंजाब में पार्टियों की ओर से सीएम कैंडिडेट को लेकर सबसे बड़ी लड़ाई नवजोत सिंह सिद्धू और चरणजीत सिंह चन्नी के बीच है। एक तरफ सिद्धू पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Capt Amarinder Singh) को हटाकर प्रदेश की राजनीति में अपना दबदबा बना चुके हैं और सभी को दिखा चुके हैं कि पार्टी आलाकमान के बीच उनकी विश्वसनीयता कितनी ज्यादा है? हाल ही में सिद्धू ने यह भी कहा था कि पंजाब के मुख्यमंत्री का चुनाव कांग्रेस आलाकमान नहीं बल्कि प्रदेश की जनता करेगी। जनता जिसे चुनेगी वहीं पंजाब का मुख्यमंत्री होगा। दूसरी ओर कांग्रेस के पास दलित चेहरे और अपनी शांत छवि के रूप में पहचान रखने वाले चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) है। चन्नी को कांग्रेस आलाकमान ने बड़े सोच-विचारकर कैप्टन की जगह दी थी।

कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो जारी कर नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को बड़ा झटका दिया है। कांग्रेस की ओर से जारी वीडियो से पता लगता है कि चन्नी ही पार्टी की ओर से सीएम कैंडिडेट (CM Candidate) होंगे।

गौर हो कि एबीपी न्यूज चैनल और सी वोटर ने साथ मिलकर पंजाब कांग्रेस के सीएम कैंडिडेट को लेकर एक सर्वे भी किया था। जिसमें 42 प्रतिशत लोगों ने सीएम चेहरे के रूप में चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) को देखना चाहते हैं। वहीं सिर्फ 23 फीसदी लोगों ही नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को पसंद करते हैं।