नागालैंड के उपमुख्यमंत्री वाई पट्टन ने कहा कि राज्य के भारतीय जनता पार्टी नेताओं से कहा गया है कि वे विवादित संशोधित नागरिकता कानून के बारे में एक शब्द भी नहीं बोलें। यह बात उन्होंने विधानसभा में विपक्षी नेता टीआर जेलियांग के सवाल के बाद कही है।

दरअसल जेलियांग ने पूछा था कि राज्य के बीजेपी विधायक दिल्ली में सीएए पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की ओर से बुलाई गई परामर्श बैठक में चुपचाप क्यों बैठे थे? इस पर बीजेपी विधायक दल के नेता पट्टन ने कहा कि हमने एक शब्द भी इसलिए नहीं बोला क्योंकि हमारे केंद्रीय नेताओं ने हमें हिदायत दी है।


ज्ञात हो कि नागालैंड विधानसभा में विपक्षी एनपीएफ ने नए नागरिकता कानून के विरोध में हंगामा किया। उन्होंने केरल और बंगाल की तर्ज पर सीएए के विरोध में प्रस्ताव पारित करने की मांग की। पट्टन ने उनकी मांग खारिज करते हुए कहा कि इस कानून से नागालैंड के लोग प्रभावित नहीं होंगे क्योंकि इनर लाइन परमिट वाले राज्यों को इस कानून के दायरे से बाहर रखा गया है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360