असम की कोकराझार लोकसभा सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी नबा कुमार सरानिया की जीत हुई है। उन्होंने बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट (बीपीएफ) के उम्मीदवार प्रमिला रानी ब्रह्मा को हराया। सरानिया की जीत 37786 वोटों के अंतर से हुई है। पिछली बार भी सरानिया ही जीते थे। उन्होंने 355779 वोटों से जीत दर्ज की थी। असम में कुल 14 लोकसभा सीटे हैं। निर्दलीय उम्मीदवार सरानिया का कोकराझार लोकसभा सीट पर एक बार फिर जलवा देखने को मिला। सरानिया शुरू में ही बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट की उम्मीदवार प्रमिला रानी ब्रह्मा से 65 हजार वोटों से आगे चल रहे थे।

2014 का चुनाव
पिछले चुनाव में इस सीट पर 81.29 फीसदी वोटिंग हुई थी। असम की कोकराझार सीट पर 2014 में निर्दलीय प्रत्याशी नबा कुमार सरानिया (हीरा) ने जीत दर्ज की थी। नबा कुमार को 2014 के चुनाव में कुल 6 लाख 34 हजार 428 मत हासिल हुए थे। उनके निकटतम प्रतिद्वंदी उरखाओ ग्वारा ब्रह्मा को 2 लाख 78 हजार 649 वोट मिले थे। ये भी निर्दलीय ही थे। नबा कुमार ने साढ़े तीन लाख से भी ज्यादा मतों के अंतर से जीत हासिल की जो पूरे असम में सबसे बड़े अंतर वाली जीत थी। वहीं पूरे देश में किसी निर्दलीय प्रत्याशी द्वारा दर्ज की गई ये सबसे बड़ी जीत भी थी। 18183 लोगों को कोई भी प्रत्याशी पसंद नहीं आया, लिहाजा उन्होंने NOTA का बटन दबाया। तीसरे नंबर पर चंदन ब्रह्मा रहे जो बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट से थे। चुनावी नतीजों से साफ है कि यहां किसी बड़े दल का जनाधार नहीं है। टॉप थ्री में न तो बीजेपी-कांग्रेस का कोई प्रत्याशी रहा और न ही एआईयूडीएफ का।


सीट का इतिहास
कोकराझार सीट पर 1957 से अब तक हुए चुनावों का परिणाम बताता है कि यहां सत्ता विरोधी लहर नहीं रहती। यानी एक बार जीता प्रत्याशी अगले तीन से चार चुनावों में लगातार जीतता है। 1957 से 1971 तक हुए चार चुनावों में जहां कांग्रेस प्रत्याशी डी बासुमतारी ने जीत दर्ज की, वहीं 1998 से 2004 तक लगातार तीन पर संसुमा खुंगुर बविश्वमुथियारी विजयी रहे। संसुमा 2009 के चुनाव में बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट के टिकट से लड़े और फिर लगातार चौथी बार विजयी रहे।


कोकराझार में कुल 10 विधानसभा सीटें हैं। यहां बीपीएफ यानी बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट का दबदबा है। 10 में से 8 सीटों पर बीडीएफ प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। इनमें गोसाईगाव में बीपीएफ, कोकराझार ईस्ट बीपीएफ, कोकराझार वेस्ट बीपीएफ, सिदली बीपीएफ, बिजनी बीपीएफ, सोरभोग बीजेपी, भबनीपुर में एआईयूडीएफ,  तमुलपुर में बीपीएफ, बरामा  में बीपीएफ और छपागुरी में बीपीएफ है।