भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने मेघालय की कांग्रेस नीत मुकुल संगमा सरकार को 'भ्रष्ट' करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि इस सरकार के कार्यकाल के दौरान घोटाले दर घोटाले होते रहे हैं।


उन्होंने शिलांग और जोवाई में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर वह मेघालय को 'आदर्श राज्य' बनाएंगे। उन्होंने कहा, 'मैं शिलांग के अपने भाइयों और बहनों से कहना चाहता हूं कि आप 27 फरवरी को तय करने जा रहे हैं कि किस तरह की सरकार मेघालय में अगले पांच वर्ष तक शासन करेगी। क्या आप देश की सबसे भ्रष्ट सरकार चाहते हैं या ऐसी सरकार चाहते हैं जिसका प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केवल विकास करना ही उद्देश्य हो। ऐसा तय करने के बाद ही वोट डालें।'


शाह ने पश्चिम जयंतिया पर्वतीय जिले के जोवाई और शिलांग के मालकी मैदान में आयोजित रैलियों को संबोधित किया। उन्होंने कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा, 'यहां कांग्रेस की सरकार है और संगमा मुख्यमंत्री हैं। दस वर्षों में अनेक भाजपा शासित राज्यों में विकास कार्य विभिन्न ऊंचाइयों पर पहुंच गये हैं लेकिन मेघालय में क्या हुआ। शिक्षा का बजट 900 करोड़ रुपये है लेकिन यह सरकार इसका 70 प्रतिशत भी खर्च नहीं कर पायी।'


भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि गांवों में स्वास्थ्य सेवाओं की बुरी स्थिति है। चिकित्सकों की कमी है। इस सबके अलावा संगमा सरकार के दौरान यहां घोटालों की झड़ी लग गयी। उन्होंने कहा कि घोटालों और कुप्रबंधन के कारण खनन कार्य रोक दिये गये हैं, पर्यटन को बढ़ावा नहीं मिल रहा है। दुर्भाग्य से युवाओं के आत्महत्या करने का प्रतिशत 45 प्रतिशत बढ़ गया है।


शाह ने कहा कि राज्य में महिलाओं के प्रति अपराधों में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली में जबर्दस्त भ्रष्टाचार है। दूसरी तरफ मोदी पूर्वोत्तर राज्यों को और विकसित करने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं। पूर्वोत्तर में विकास कार्य तेजी से हों, इसके लिए केन्द्रीय मंत्री 150 दौरे कर चुके हैं। शिलांग में 40 वर्षों में पहली बार पूर्वोत्तर परिषद की बैठक में कोई प्रधानमंत्री शामिल हुआ। इन सब कार्यों की वजह से क्षेत्र में भाजपा की स्वीकार्यता हर दिन बढ़ रही है।


उन्होंने कहा कि विकास कार्यों की वजह से असम, अरुणाचल प्रदेश और मणिपुर में भाजपा की सरकार बनीं। भाजपा नागालैंड और त्रिपुरा में सरकार बनाने जा रही है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा, 'मैं यहां आपसे अपील करने आया हूं कि 10 वर्षों से शासन कर रही सर्वाधिक भ्रष्ट डॉ. मुकुल संगमा सरकार को बेदखल कर दें जिससे हम यहां भाजपा की सरकार बना सकें और श्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण को लागू किया जा सके।


शाह ने मुख्यमंत्री पर हमला करते हुए कहा, 'डॉ. संगमा ने पूछा है कि भाजपा को यह बताना चाहिए उसने मेघालय में क्या किया, लेकिन मैं उनसे पूछता हूं कि वह यह बतायें कि कांग्रेस ने इस राज्य के लिए क्या किया? हमने गत चार वर्षों में वह काम किया है जो कांग्रेस पिछले 10 सालों में नहीं कर सकी।'


उन्होंने कहा, 'जब केन्द्र में मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी की सरकार थी और मेघालय में भी कांग्रेस की सरकार थी तब इस राज्य को 13वें वित्त आयोग के दौरान 5817 करोड़ रुपये मिले थे। 14वें वित्त आयोग के दौरान जबकि केन्द्र में भाजपा की सरकार है, इस राज्य को 25400 करोड़ रुपये दिये गये। अगर पैसों का सही तरीके से इस्तेमाल किया गया होता तो कम से कम शिलांग के लोगों को इस तरह का यातायात जाम का सामना नहीं करना पड़ता।'


उन्होंने कहा कि बजट धनराशि बढ़ाये जाने के बावजूद राज्य में विकास का काम नहीं हुआ है। सारे पैसे कांग्रेस नेताओं के बंगलों पर खर्च किये जा रहे हैं। पांच साल पहले उनके पास छोटे और साधारण मकान थे, आज उनके पास बड़े-बड़े बंगले हैं। शाह ने कहा, 'डॉ. मुकुल संगमा की सरकार सर्वाधिक भ्रष्टाचारी सरकार है। भाजपा के पास मेघालय के विकास के लिए वृहत दृष्टिकोण है और एजेंडा है। हम गरीब लोगों को मकान और हर घर को नौकरी देना चाहते हैं। साथ ही हर घर में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति करना चाहते हैं और गांवों में सड़क की सुविधा मुहैया कराने के साथ घर-घर बिजली भी पहुंचाना चाहते हैं। हमारा एजेंडा मेघालय को सबसे बड़ा पर्यटन स्थल बनाना है। मैं आप लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि भाजपा की सरकार बनने पर मेघालय को 'आदर्श राज्य' बनाया जायेगा।'


उल्लेखनीय है कि भाजपा ने 60 में से 47 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। चुनाव परिणाम 3 मार्च को घोषित किए जाएंगे।