डेरा प्रमुख की गिरफ्तारी के बाद शुरू हुए हिंसा के बीच गोरखालैंड समर्थकों के लिए राहत की खबर है। राजधानी में कई जगह धारा 144 लगाने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि रविवार को जोंगे वाले प्रस्तावित अनशन पर मुश्किलें आए और वह टल जाए।

लेकिन अब स्थिति सामान्य होने के साथ-साथ गोरखालैंड राज्य के लिए एक दिनी भूख हड़ताल भी नियत समय पर ही आयोजित किया जाएगा। 

इस अनशन में हजारों की संख्या में देशभर से लोग दिल्ली के जंतर-मंतर पर गोरखा एकता के किए जुटेंगे।

सुरक्षा सम्बन्धी अटकलों के बीच जंतर-मंतर क्षेत्र के एसएचओ अशोक कुमार ने बताया कि नई दिल्ली में धारा 144 नहीं है। जंतर-मंतर पर गोरखालैंड के समर्थन में होने वाली प्रस्तावित रैली, अनशन और भूख हड़ताल किसी भी प्रकार की पाबन्दी नहीं है।