पिछले कुछ दिनों में नाइजीरिया (Nigeria) के उत्तर-पश्चिमी ज़म्फारा में मोटरसाइकिल सवार बंदूकधारियों ने कम से कम 200 लोगों को मौत के घाट उतार दिया है। रिपोर्ट के अनुसार, मोटरसाइकिलों पर गिरोह (gangs) कई गांवों पर हथियारों से हमला कर रहे हैं।
गिरोह जिन्हें स्थानीय रूप से डाकू कहा जाता है, अपराधियों के परिष्कृत नेटवर्क के रूप में जाना जाता है। वे बड़े क्षेत्रों में काम करते हैं और वे जानवरों की चोरी, फिरौती के लिए अपहरण और लोगों को मारते हैं। नाइजीरियाई सरकार ने इस सप्ताह आधिकारिक तौर पर इन डाकुओं को आतंकवादी (terrorists) करार दिया है।
सरकार ने सुरक्षा बलों को इन समूहों और उनके समर्थकों पर सख्त प्रतिबंध लगाने की अनुमति दी है। पिछले एक रिपोर्ट में कहा गया था कि संदिग्ध डाकुओं द्वारा 100 से अधिक लोगों की हत्या कर दी गई थी।
स्थानीय लोगों ने कहा कि डाकुओं ने उनके घरों को जला दिया और मृतक के शवों को भी क्षत-विक्षत कर दिया। मानवीय मामलों के मंत्री सादिया उमर फारूक (Sadiya Umar Farouq) के प्रवक्ता ने कथित तौर पर कहा कि 200 से अधिक लोग दफन हो गए थे जबकि 10,000 से अधिक लोग बेघर हो गए थे और कई लोग अभी भी लापता हैं।