उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मछुआरे के जाल में मछली की जगह उसकी ही मां का शव मिला है। उसने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी और हत्या की आशंका जताते हुए तहरीर देकर जांच की मांग भी की है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया है।

जानकारी के मुताबिक लखनऊ के मलिहाबाद थाने के रुसेना गांव के रहने वाले मछुआरे रामविलास अपनी माता रामकली, दो बेटे रामनाथ, श्यामू और तीन बेटियों के साथ रहता है। गांव के बाहर ही खेत है जहां रामविलास की माता रामकली सब्जी की रखवाली के लिए रहती थीं। रामविलास खेत के पास स्थित बेहता नाले में मछली पकड़ने का काम करता है।

बताया जाता है कि घटना वाली रात रामविलास खेत जाकर मां को खाना देने के बाद बेतहा नाले में मछली फंसाने के लिए जाल लगाया था। इसके बाद वह अपने घर चला गया। राम विलास सुबह जब खेत पहुंचा तो वहां उसकी मां नहीं मिली। वह काफी देर तक मां का इंतजार करने के बाद जब मां नहीं आई तो बेतहा नाले में लगाया जाल समेटने चला गया। जब वह जाल खींचने लगा तो वह काफी भारी लगा। जाल खींचने के बाद रामविलास सन्न रह गया। जाल में मछली नहीं, उसकी मां का शव फंसा था। शव को निकालने के बाद उसने इसकी सूचना पुलिस को दी और तहरीर देकर हत्या की आशंका जताते हुए जांच की मांग की। 

मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक (एसपी) लखनऊ ग्रामीण ने बताया कि मलिहाबाद के रामविलास और उनके परिजनों ने तहरीर देकर अपनी मां का हत्या की आशंका जताई है। एसपी लखनऊ ग्रामीण के मुताबिक रामविलास के पिता की भी 10 साल पहले मौत हो गई थी। उनका नाम छेदा था। उन्होंने बताया कि महिला की रात के समय नाले में गिरने से मौत की आशंका है। एसपी लखनऊ ग्रामीण ने कहा कि परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि आगे की कार्रवाई की जाएगी।